एक ऐसा गीत जिसने सुना जिंदा नहीं बचा

Gloomy SundayRezső Seress (1)एक ऐसा संगीत है जो देता है सजा ए मौत। कोई इंसान जान लेता नहीं आदमी खुद अपनी जान दे देता है। घबड़ाइये नहीं कई मौतों के बाद इस संगीत को कई मुल्कों में बैन कर दिया गया है। तो आइये करते हैं इस संगीत के बारे में बात।

सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा होगा कि क्‍या कोई ऐसी धुन भी हो सकती है जिसको सुनकर कोई अपने हाथों अपनी जिंदगी समाप्‍त कर दे। मगर यह सच है इस गाने को सुनकर अबतक सैकड़ों लोग जान दे चुके हैं।

सीधे शब्‍दों में कहें तो इसे दुनिया का सबसे मनहूस गीत करार दिया गया है क्‍योंकि जिसने भी इस गाने को सुना जिंदगी उससे बेगानी हो गई और मौत को गले लगाना उसकी मजबूरी बन गई।

लोगों का दावा है कि यह गीत आत्महत्या की प्रेरणा देता है। इस गीत को हंगरी के संगीतकार रेजसो सेरेज ने कम्पोज किया था और 1933 में प्रकाशित हुआ। इस गीत के बोल लेस्ज्लो जवोर ने लिखे थे। गीत 1935 में हंगरी में आया। यह गीत हंगरी में अनेकों मौतों को कारण बना। करीब 18 मौतें इस गीत से किसी न किसी रूप से जोड़ी गयीं। किसी ने गीत को  सुनने के बाद आत्महत्या की। या जो मरा पाया गया उसने अपने डेथ नोट में इस गीत का जिक्र किया। कुछ के ग्रामोफोन पर यह गीत बज रहा था। बाद में इस गीत को प्रतिबंधित कर दिया गया। बाद में इसमें अमेरिकन संगीतकारों की रुचि जगी। उन्होंने इस पर काम किया और इसका फेमस वर्जन बिली होलीडेज वर्जन सामने आया लेकिन बीबीसी ने इस पर यह कहते हुए रोक लगा दी कि यह युद्ध के मोरल्स का उल्लंघन करता है। यह रोक 2002 तक लगी रही। जिनको जानने की जिज्ञासा हो कि ऐसा इस गीत में क्या था कि लोग आत्महत्या कर लेते थे वह इंटरनेट पर ढूंढ कर इसे सुन सकते हैं लेकिन सावधान यह अभिशप्त गीत है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button