फास्टट्रैक कोर्ट में होगी निकिता हत्याकांड की सुनवाई, बल्लभगढ़ जिला अदालत ने दिया आदेश

फरीदाबाद पुलिस ने जिला अदालत को दिये अपने रिपोर्ट में लिखा था कि लोगों के बीच विश्वास बहाल करने के लिए और पीड़िता के परिवार को न्याय दिलाने के लिए इस मामले की सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में होनी चाहिए।

फरीदाबाद: निकिता तोमर हत्याकांड में पुलिस द्वारा दायर की गई याचिका को कोर्ट ने मंजूरी दे दी है। अब निकिता तोमर हत्याकांड की सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में होगी। इस हत्याकांड की सुनवाई अब डे-टू-डे के आधार पर होगी। हरियाणा के फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में एक कॉलेज के सामने हुए निकिता हत्याकांड में फरीदाबाद की पुलिस ने जिला अदालत को चिट्ठी लिख कर फास्टट्रैक कोर्ट में इस मामले की सुनवाई की मांग की थी।

जल्द सुनवाई से अपराधियों मे डर पैदा होगा

फरीदाबाद पुलिस ने जिला अदालत को दिये अपने रिपोर्ट में लिखा था कि यह एक महिला से जुड़ा संवेदनशील मामला है। महिला के खिलाफ यह एक संगीन अपराध है जिसे कॉलेज के सामने ही अंजाम दिया गया। लोगों के बीच विश्वास बहाल करने के लिए और पीड़िता के परिवार को न्याय दिलाने के लिए इस मामले की सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में होनी चाहिए। पुलिस अधिकारी ने कहा कि इससे अपराधियों के मन में भी भय पैदा होगा। जिला अदालत ने फास्टट्रैक कोर्ट में इस केस के सुनवाई की इजाजत दे दी है।

11 दिनों में एसआईटी ने सौंपी अपनी रिपोर्ट

निकिता हत्याकांड में जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया गया था। फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में एसआईटी ने 11 दिनों में 700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल कर दी।

पुलिस द्वारा दायर किये गए चार्जशीट में वहां पर मौजूद 60 गवाहों के बयान को भी लिया गया है। डिजिटल फोरेंसिक और वहां पर उपस्थित मेटेरियल एविडेंस को भी चार्जशीट में शामिल किया गया है। जिससे की निकिता हत्याकांड में जांच सही तरीके से हो सके।

ये भी पढ़ें : जनवरी-फरवरी में कोरोना की दूसरी लहर आने की आशंका, एडवाइजरी जारी

Related Articles

Back to top button