ठंडे हिमचाल में दिखी गर्मीं, SP कुल्लू की हुई CM सेक्योरिटी गार्ड से हांथापाई

कुल्लू/मनाली: बुधवार को हिमाचल प्रदेश पुलिस और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के सुरक्षा कर्मियों के बीच विवाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. ये वीडियो उस समय का है जब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के स्वागत के लिए भुंतर पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा अधिकारी और कुल्लु जिले के पुलिस कप्तान गौरव सिंह के बीच जोरदार झड़प हुई. पहले ये वीडियो देखिये। झड़प क्या ही कहें वीडियो में CM सुरक्षाकर्मी कुल्लू जिले के पुलिस कप्तान को लात-घूसे और तमचा मारता दिखाई दे रहा है. हालांकि, झड़प किस बात को लेकर हुई, इसका पता अभी तक नहीं चल सका है.

ये घटनाक्रम तब हुआ जब बुधवार को केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितन गडकरी हिमाचल के मनाली में दौरे पर थे. उनके स्वागत के लिए हिमाचल प्रदेश के CM जयराम ठाकुर भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे थे। रास्ते में ही कुछ कीरतपुर-मनाली फोरलेन के प्रभावित किसान भी उनसे मिलने के लिए पहुंचे थे. किसानों को देखकर नितिन गडकरी ने अपना काफिला सड़क किनारे रुकवाया और मिलने चले गए. उसके बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी किसानों से मिलने पहुंच गए।

तभी अचानक से मुख्यमंत्री की गाड़ी की पिछली साइड सुरक्षाकर्मी और SP कुल्लू के बीच झड़प हो गई. इस पूरी घटना का भी वीडियो भी सामने आया है. वीडियो में सुरक्षाकर्मी SP को लात मारता हुआ साफ दिखाई दे रहा है. जिले के इतने बड़े अधिकारी को ये अनुमान भी नहीं था कि इस घटना का क्या असर होगा। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही अफवाहों का बाजार भी गर्म हो गया, लेकिन इस पर कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है.

घटना सामने आने के बाद लोग प्रदेश सरकार का विरोध करते हुए नजर आ रहे हैं तो वहीं पुलिस कप्तान कुल्लू की कार्यप्रणाली से खुश होकर उनके पक्ष में नारेबाजी भी कर रहे हैं. इस घटनाक्रम पर प्रदेश के DGP संयय कूंडू ने एसपी कुल्लू गौरव सिंह, SSP बृजेस सूद और PSO बलवंत को जबरन छुट्टी पर भेज दिया है। साथ ही प्रारंभिक जांच पूरी होने तक इन सभी के मुख्यालय भी अलग-अलग फिक्स कर दिए गए हैं. वही कुल्लू में पुलिस कप्तानी की जिम्मेदारी DIG सेंट्रल रेंज के. मधूसूदन को दी गई है.

ये भी पढ़ें : UP: बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 61 नावें- 69 मेडिकल टीमें मुस्तैद, NDRF-SDRF रेस्क्यू में जुटी

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

 

Related Articles