यूपी और बिहार आज भारी बारिश होने का अनुमान, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

नई दिल्ली: मौसम विभाग के अनुसार बिहार के पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में आज भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है इसके साथ ही साथ हिमाचल प्रदेश और गुजरात, पूर्वी राजस्थान, पश्चिम बंगाल, असम, उत्तराखंड में भी बारिश का अनुमान है. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बीते दो दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से आम जनजीवन अस्त व्यस्त हुआ है. मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि अगले 48 घंटों तक भारी बारिश हो सकती है. ऐसे में प्रदेश के बड़े हिस्से में धान समेत कई फसलें और सब्जियों को भी भारी नुकसान पहुंचा है.मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक इस साल मानसून के मौसम में सामान्य से अधिक बारिश की संभावना है. हालांकि इस साल अब तक सामान्य से सात फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी है. आधिकारिक रूप से मानसून का मौसम 30 सितंबर को खत्म होगा. अधिकारियों ने बताया कि चार महीने की वर्षा ऋतु की आधिकारिक रूप से शुरुआत एक जून को होती है और यह 30 सितंबर को खत्म होती है. एक सितंबर से मानसून पश्चिमी राजस्थान से पीछे हटने लगता है लेकिन इस बार ऐसा कोई संकेत नहीं है.

उत्तर प्रदेश में आफत बनकर बरस रही बारिश ने गुरुवार रात से अब तक 14 से ज्यादा लोगों की जान ली है. प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में हो रही बारिश से फिलहाल निजात मिलती नर नहीं आ रही है. मौसम विभाग ने चित्रकूट, प्रयागराज, सोनभद्र, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर, संतकबीरनगर, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, गाज़ीपुर, बलिया, जौनपुर, आज़मगढ़, मऊ, देवरिया, गोरखपुर, अम्बेडकर नगर में अगले दो दिन तक लगातार भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

उधर राज्य के कई जिलों में जारी भारी बारिश और भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से मिले अलर्ट के बाद सीएम नीतीश कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिया और कहा कि प्रभावित इलाकों में कम्युनिटी किचेन से काम नहीं चलेगा. उन्होंने अधिकारियों को कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में रिलीफ कैम्प की व्यवस्था करें. मुख्यमंत्री ने कहा कि शनिवार से हथिया नक्षत्र शुरू हो रहा है और ऐसे में यह मान्यता है कि शनिवार के दिन बारिश शुरू होती है तो तीन दिनों तक लगातार बारिश होती है. माना जाता है कि हथिया नक्षत्र में भारी बारिश होती है

Related Articles