पूरे भारत में बाढ़ का कहर, NDRF टीम रेस्‍क्‍यू में जुटी

नई दिल्ली। पूरे भारत में बाढ़ का कहर जारी है। पूरब हो या दक्षिण, उत्‍तर हो या दक्षिण चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। सबसे ज्‍यादा हालात तो गुजरात के खराब हैं। वहां सात हजार से ज्‍यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। वहीं असम में कुछ सही नहीं है। वहां करीब 60 हजार से ज्‍यादा लोग बाढ़ से ग्रस्‍त हैं। प्रशासन और एनडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य में जुटीं हैं।

बाढ़ का कहरआफत बना बाढ़ का कहर

बात अगर गुजरात की करें तो यहां के जूनागढ़ के मालिया और मियाणा इलाके में चारों ओर पानी ही पानी नजर आ रहा है। यहां मच्छू बांध पूरी तरह पानी से भर गया है। जिससे करीब 10 गांव जलमग्न हो गए हैं। सेना के हेलिकॉप्टर और एनडीआरएफ की मदद से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: भारी बारिश से उत्‍तर भारत में बाढ़ का कहर, असम से लेकर कश्‍मीर तक…

रेलवे लाइन पर पानी भरने से आवागमन बाधित

गुजरात के मालिया और मियाणा में बाढ़ की वजह से रेलवे लाइन पर पानी भर गया है। वहीं हाइवे पर भी कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया है। हालात ये हैं कि करीब दो हजार से ज्यादा ट्रकों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है।

राजस्‍थान का भी हाल-बेहाल

इसके बाद राजस्थान पर नजर डालें तो वहां भी कुछ इलाकों में लगातार बारिश हो रही है। हालात ऐसे हैं कि बाढ़ के आलावा कुछ नजर नहीं आ रहा है। वहीं माऊंट आबू में पिछले 19 घंटे में 21 इंच से ज्यादा बारिश हुई है।

उत्‍तर प्रदेश में भी बाढ़ ने दिखाया रूप

उत्तर प्रदेश के रामपुर में दो अलग-अलग घटनाओं में तीन बच्चों की डूबने से मौत हो गयी। दो बच्चे तहसील स्वार में कोसी नदी में डूब गये, जबकि एक बच्चा रामपुर की तहसील बिलासपुर में भाकड़ा नदी में डूब कर मर गया।

मध्‍य प्रदेश में सभी नदियां उफान पर

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के कंवला गांव में तेज बारिश के बाद उफन रही चंबल नदी से एक मगरमच्छ कल रात निकलकर कंवला गांव के एक घऱ में जा छिपा। सुबह घरवालों की आंख खुली तो उनकी नजर मगरमच्छ पर पड़ी और फिर कोहराम मच गया।

Related Articles

Leave a Reply