IPL
IPL

सेहत के लिए फायदेमंद है गुड़हल का फूल, रूसी (Dandruff) से मिलेगा छुटकारा

गुड़हल के फूल से कॉलेस्ट्राल, मधुमेह (Diabetes), रक्तचाप, गुर्दे (Kidney) की बीमारियों और गले के संक्रमण जैसे रोगों का इलाज किया जाता है

लखनऊ: गुड़हल (Hibiscus) का फूल पूजा-पाठ के साथ सौंदर्य के लिए भी फायदेमंद होता है। यह फूल देखने में जितना आकर्षक और सुंदर होता है उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। फूल के सभी हिस्सों का खाने और दवा बनाने में उपयोग किया जाता है। यूनानी दवाओं को बनाने में गुड़हल के फूल का बहुत उपयोग होता है। इसके फूल से बालों (Hair) को ताकत मिलती है।

गुड़हल के फूल का उपयोग

  • गुड़हल के फूल से कॉलेस्ट्राल, मधुमेह (Diabetes), रक्तचाप, गुर्दे (Kidney) की बीमारियों और गले के संक्रमण जैसे रोगों का इलाज किया जाता है।
  • इसके फूल में विटामिन सी (Vitamin C), कैल्शियम, वसा, फाइबर, आयरन, नाइट्रोजन, फास्फोरस,टेटरिक और ऑक्सिलिक एसिड का बढ़िया स्त्रोत है।
  • आयुर्वेद में गुड़हल के फूल को एक बहुत ही उत्तम औषधि बताया गया है।
  • गंजेपन की समस्या, बालों को झड़ने से रोकने और बालों को बढ़ाने में गुड़हल का फूल फायदेमंद होता है।

  • गुड़हल के पत्तों को पीसकर लुग्दी बना लें। फिर इसे बालों में लगाए। ऐसा नियमित रूप से करने पर बालों को पोषण मिलता है और सिर भी ठंडा रहता है। गुड़हल के फूल और भृंगराज के फूल को भेड़ के दूध में पीसकर लोहे के बरतन में रखें। 7 दिन बाद पेस्ट को बरतन से निकालकर भृंगराज के पंचांग के रस में मिलाएं। ऐसा करने से बाल काले हो जाते हैं।

 

  • रूसी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए भी गुड़हल का उपयोग किया जाता है। गुड़हल के रस में बराबर मात्रा में तिल का तेल मिला लें। इस तेल को बालों की जड़ो में लगाने से रूसी (डैंड्रफ) खत्म हो जाते हैं।

  • गुड़हल के पत्तियों में आयरन, विटामिन C और एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) के गुण होते हैं जो की हमारे चेहरे की झुर्रियों, मुंहासे, दाग धब्बों को दूर करने लाभदायक होता है।

यह भी पढ़ेIndia के सबसे अमीर व्यक्ति Mukesh Ambani को मिलती है ये सुरक्षा, महीने में इतने रुपये होते हैं खर्च

Related Articles

Back to top button