Vaccine की कमी को लेकर Highcourt ने केंद्र और दिल्ली सरकार से मांगा जवाब

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के बीच वैक्सीन ही एक मात्र रास्ता है जिससे कोरोना वायरस की चेन को तोडी जा सकती है, मगर अब खुद वैक्सीनेशन की चेन टूटती नजर आ रही है. कोरोना वायरस महामारी के बीच देश में वैक्सीन की किल्लत मची हुई है. खासकर दिल्ली में वैक्सीन की कमी बनी हुई है. राजधानी में बिना वैक्सीन के टीकाकरण केंद्रों पर ताले लग गए हैं. हालांकि इस बीच दिल्ली Highcourt ने राजधानी में वैक्सीन की पर्याप्त सप्लाई सुनिश्चित करने की मांग वाली याचिका पर केंद्र और दिल्ली सरकार से जवाब मांगा है.

बता दें की दिल्ली Highcourt में एक 43 साल के व्यक्ति ने याचिका दायर की है, जो स्लॉट न मिल पाने की वजह से वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन न कर पाया. इस शख्स ने याचिका में आरोप लगाया कि इस मसले पर केंद्र- दिल्ली सरकार आरोप-प्रत्यारोप में उलझे हैं और लोगों को वैक्सीन नहीं मिल पा रही है. Highcourt ने राष्ट्रीय राजधानी के लिए कोविड-19 रोधी टीकों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के अनुरोध वाली याचिका पर केंद्र तथा दिल्ली सरकार से अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है.

गौर करने वाली है कि देश की राजधानी दिल्ली समेत देश भर में 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था. लेकिन कुछ दिनों के बाद वैक्सीन की किल्लत शुरू हो गई, जो अभी भी बरकरार है. राजधानी दिल्ली में वैक्सीन उपलब्ध न होने की वजह से टीकाकरण बूथों को बंद करना पड़ा है. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार लगातार केंद्र सरकार के वैक्सीन के लिए गुहार लगा रही है. अरविंद केजरीवाल इसको लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत भी लिख चुके हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को पत्रकारों को बताया कि 18-44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण प्रक्रिया को पिछले चार दिनों से निलंबित कर दिया गया है, क्योंकि यह स्पष्ट नहीं है कि दिल्ली को कोविड रोधी जैब्स की अगली आपूर्ति कब की जाएगी. उन्होंने कहा कि 45 और उससे अधिक आयु समूहों के लिए कोवैक्सिन स्टॉक भी समाप्त हो गया है और सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर केवल कोविशील्ड खुराक दी जा रही है. हालांकि मुख्यमंत्री ने बुधवार को घोषणा की कि Sputnik v के निर्माता रूसी एंटी-कोविड वैक्सीन की आपूर्ति दिल्ली को करने के लिए सहमत हो गए हैं, लेकिन इसकी मात्रा अभी तय नहीं की गई है.

ये भी पढ़े : रक्षा मंत्री Rajnath Singh ने लॉन्च किया SeHAT ओपीडी पोर्टल, मरीजों को मिलेगी सुविधा

Related Articles