बड़ा खुलासा: गौरी लंकेश के हत्यारे के लिए चंदा मांग रहा हिन्दू संगठन, करना चाहता है मदद

0

नई दिल्ली। हिंदू धर्म के खिलाफ जिस वरिष्ठ पत्रकार को लेख लिखने की कीमत अपनी मौत से चुकानी पड़ी। वहीं गौरी लंकेश हत्याकांड में सभी हिदुत्वादी संगठन अपना पल्ला झाड़ते रहे हैं। ऐसे में गौरी लंकेश की हत्या का जुर्म कबूल कर चुके परशुराम वाघमोरे के पकडे जाने के बाद अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है, जो इस बात का सीधा ताल्लुक श्रीराम सेना संगठन से जोड़ रही है। हालांकि पोचताच के दौरान श्रीराम सेना ने साफ़ तौर पर परशुराम से किसी भी तरह के ताल्लुक को नकार दिया था और उसे आरएसएस का समर्थक करार दिया था।

केजरीवाल ने भाजपा पर लगाया आरोप, कहा- आईएएस अधिकारियों को उकसा…

गौरी लंकेश हत्याकांड

खबरों के मुताबिक़ श्रीराम सेना की विजयपुरा जिला इकाई ने गौरी लंकेश की हत्या का जुर्म कबूल कर चुके परशुराम वाघमोरे के परिवार की मदद के लिए लोगों से चंदा देने की अपील की है।

श्रीराम सेना के कई कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने फेसबुक पेज से इस संबंध में अपील वाला पोस्टर शेयर किया है। श्रीराम सेना ने जारी की गई अपील में कहा है कि परशुराम वाघमोरे का परिवार गरीब है।

पोस्टर में परशुराम वाघमोरे की एक तस्वीर भी लगी है और लिखा है, ‘धर्म की रक्षा करने वाले की आर्थिक मदद को आगे आएं।’ इस पोस्टर में बैंक अकाउंट की पूरी डिटेल भी है, जिसमें चंदे की राशि जमा करने के लिए कहा गया है।

अमेरिका के बाद अब दक्षिण कोरिया ने किम जोंग से किया…

बता दें गौरी लंकेश को बेंगलुरू के उनके आवास के ठीक सामने 5 सितंबर, 2017 को गोली मारने वाले परशुराम वाघमोरे के लिए सोशल मीडिया पर की गई इस अपील से संबंधित एक पोस्टर को श्रीराम सेना के फेसबुक पोस्ट के साथ भी शेयर किया गया है।

मामले की जांच कर रही SIT ने शनिवार को मुख्य आरोपी परशुराम के पिता और श्रीराम सेना के विजयपुरा जिला अध्यक्ष राकेश मथ से भी पूछताछ की।

वहीं श्रीराम सेना ने इस मामले में गिरफ्तार परशुराम वाघमोरे से पल्ला झाड़ते हुए उसे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) का सदस्य बताया है।

ज्ञात हो कि राकेश मथ मुख्य आरोपी वाघमोरे का मित्र है। राकेश मथ ने परशुराम को पूरी तरह निर्दोष बताया और कहा, ‘आप ऐसा कैसे कह सकते हैं कि परशुराम ने ही हत्या की है। वह एक भला आदमी है। जब तक कोर्ट में साबित नहीं हो जाता उसे हत्यारा नहीं कहा जा सकता।’

मुस्लिम तुष्टीकरण का आरोप लगाने वालों पर भड़की ममता, कहा-हिन्दुओं से…

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद से ही परशुराम वाघमोरे दिमागी रूप से स्थिर नहीं है। उसने अपने माता-पिता से मिलने की इच्छा जाहिर की। शनिवार को उसके पिता अशोक उससे मिलने भी आए। हालांकि दोनों के बीच ज्यादा बातचीत नहीं हो सकी।

पिता ने वाघमोरे से उसका हाल पूछा, जिसके जवाब में वाघमोरे ने कहा कि वह अच्छा है। वाघमोरे ने हालांकि पिता से अगली बार मां को भी साथ लाने के लिए कहा।

बता दें कि गिरफ्तारी के 10 मिनट के अंदर ही वाघमोरे ने पुलिस वाहन में कबूल कर लिया कि उसने ही गौरी लंकेश को गोली मारी थी।

पूछताछ के दौरान ये भी बात सामने आई कि परशुराम को धर्म की रक्षा के नाम पर गौरी लंकेश की हत्या के लिए ख़ास तौर पर ट्रेन किया गया था। जिसके बाद उसने इस घटना को अंजाम दिया।

loading...
शेयर करें