हिंदुस्तान से युद्ध की तैयारी, और पाकिस्तान से दोस्ती का हाथ

0

भारत और चीन की सरहद पर लगतार बढ़ रहे तनाव के बीच पाकिस्तान और चीन कि दोस्ती गहरी होती जा रही है चीन के उप प्रधानमंत्री वांग यांग पाकिस्तान के 70वें स्वतंत्रता दिवस में शामिल होंगे। वांग यांग का यह दौरा दो दिन का होगा, इस दौरान वो वहां पर फ्लैग हॉस्टिंग में हिस्सा लेंगे.

 

वांग यांग रविवार को पाकिस्तान पहुंचे, उन्हें पाकिस्तान के कई अफसरों ने बेनज़ीर भुट्टो एयरपोर्ट से रिसीव किया। चीन के उपराष्ट्रपति यहां राष्ट्रपति ममनून हुसैन, प्रधानमंत्री शाहिद खक्कान अब्बासी  के अलावा पाकिस्तानी सेना के चीफ जावेद बाजवा और विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ से मुलाकात करेंगे।

एक बयान में कहा गया कि यह पाकिस्तान और चीन की दोस्ती में एक ऐतिहासिक कदम है ।

वांग यांग पाकिस्तान में CPEC के कई प्रोजेक्ट की शुरुआत करेंगे । और साथ में यहां पर कई नए समझौतों पर भी मुहर लगा सकते हैं। इससे पहले मार्च 2017 में चीनी सेना ने पाकिस्तान दिवस के दौरान परेड में हिस्सा लिया था। परेड में चीनी सेना की तीनों टुकड़ियों ने हिस्सा लिया था ।

बाजवा ने झंड फहराया

भारत के साथ ही पाकिस्तान भी अपना 70वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है । इस मौके पर पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने आधी रात को 12 बजे वाघा-अटारी सीमा के पास अपना झंडा फहराया । इस ध्वज की लंबाई 120 फीट और चौड़ाई 80 फीट है । जो कि दुनिया का आठवां सबसे बड़ा झंडा माना जा रहा है

इस मौके पर बाजवा बोले कि मैं आपको आश्वसान देता हूं कि हम आपको कभी निराश नहीं करेंगे । ऐसी कोई भी शक्ति जिसका लक्ष्य पाकिस्तान, सेना तथा अन्य संस्थानों को कमजोर करना है, उनके प्रयासों को विफल किया जाएगा.

 

loading...
शेयर करें