हॉकी इंडिया ने प्रदेश सदस्य इकाइयों की बनाई मास्टर्स समिति, पूर्व कप्तान को मिला मौका

हॉकी इंडिया के महासचिव राजिंदर सिंह ने कहा, “हमें खुशी है कि राज्य सदस्य इकाइयों से हमें बेहतर समर्थन प्राप्त हुआ है।

नई दिल्ली: भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान परगट सिंह, मीर रंजन नेगी और गुरबख्श सिंह को हॉकी इंडिया की प्रदेश सदस्य इकाइयों की मास्टर्स समिति में शामिल किया गया है। हॉकी इंडिया ने एक विज्ञप्ति में कहा कि इस योजना के तहत सभी आयुवर्गों (महिला और पुरुष) में मौके दिए जायेंगे। जिससे किसी भी खिलाड़ी को अपना शौक बरकरार करने के लिए उम्र की बाधा न आए।

हॉकी इंडिया के महासचिव का बयान

मास्टर्स कमेटी के गठन के लिए राज्य सदस्य इकाइयों से मिली जबर्दस्त प्रतिक्रिया के बारे में बोलते हुए हॉकी इंडिया के महासचिव राजिंदर सिंह ने कहा, “हमें खुशी है कि राज्य सदस्य इकाइयों से हमें बेहतर समर्थन प्राप्त हुआ है। जिन्होंने अपनी संबंधित समितियों के गठन में भारतीय हॉकी के प्रमुख नामों को शामिल किया है।’’

उन्होंने कहा, “मैं उनके जुनून और प्रयास को लेकर आश्वस्त हूं। हम पूर्व खिलाड़ियों की उम्र की फिक्र किए बगैर मास्टर्स श्रेणी में उनके लिए के लिए एक मंच विकसित करने में सक्षम होंगे। मास्टर्स समिति का लक्ष्य खिलाड़ियों को वापस आने के लिए प्रोत्साहित करना है। जिससे वे हॉकी को एक मनोरंजक गतिविधि के रूप में खेलते रहे और उस खेल के साथ संपर्क में रहते हुए उसको लेकर प्यार और भावुकता बनी रहे।’’

बता दें कि मार्च में हॉकी इंडिया ने दुनिया भर के 38 अन्य राष्ट्रीय संघों से मिलकर विश्व मास्टर्स हॉकी की सदस्यता ली थी। यह अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ से मान्यता प्राप्त एकमात्र इकाई है और दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय मास्टर्स हॉकी के आयोजन का अधिकार प्राप्त है। हॉकी इंडिया ने सभी प्रदेश सदस्य इकाइयों से पूर्व राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की प्रदेश स्तरीय समितियों के गठन की गुजारिश की है।

हॉकी इंडिया की मास्टर्स समिति के अध्यक्ष हरबिंदर सिंह और आर पी सिंह समन्वयक होंगे। वहीं बी पी गोविंदा, जगबीर सिंह, एबी सुबैया, सुरिंदर कौर और एम रेणुका लक्ष्मी भी इसमें शामिल होंगी।

यह भी पढ़ें: वनडे के सबसे तेज 12 हजारी बनेंगे विराट कोहली, तोड़ सकते हैं क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड

Related Articles

Back to top button