Home ministry : अगले फरमान तक इस पोस्ट तक के सारे एम्प्लॉय वर्क फ्रॉम होम करेंगे

नई दिल्ली : देश  की राजधानी दिल्ली में तेज़ी से पैर पसारते कोरोना के मद्देनज़र Home ministry ने बड़ा फैसला लिया है। इस मसले पर दिए अपने बयान में सेंट्रल होम मिनिस्ट्री ने कहा की सरकारी दफ्तर अब अपनी आधी क्षमता के साथ काम करेंगे। मतलब अब केवल पचास फीसद एम्प्लॉय ही ऑफिस आएंगे और अंडर सेक्रेटरी पोस्ट तक के सारे एम्प्लॉय वर्क फ्रॉम होम करेंगे।

मिनिस्ट्री ने कहा कि ऑफिस आने वाले एम्प्लॉयज़ के एंट्री की टाइमिंग 9 से 10 बजे के बीच होगी। जो एम्प्लॉय जिस समय एंट्री करेगा, उसी के मुताबिक़ ड्यूटी खत्म होने के बाद ऑफिस से एग्जिट भी करेगा। साथ ही कंटेनमेंट जोन में रहने वाले अफसर तब तक दफ्तर नहीं आएँगे जब तक वह एरिया डीकंटेनमेंट डिक्लेअर नहीं हो जाता। राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए और  इन्फेक्शन को फैलने से रोकने के लिए उठाये गए इस कदम के तहत डिप्टी सेक्रेटरी या इस पोस्ट से उपर के सारे एम्प्लॉयज़ को रेगुलर ऑफिस जाना होगा।

फ़ोन पर रहना होगा मुस्तैद : Home ministry

इसी के साथ साथ मिनिस्ट्री ने कहा की एम्प्लॉयज़ का रोस्टर संबंधित विभाग के हेड बनाएंगे। साथ ही अगर जरूरत पड़ती है तो वे किसी भी पोस्ट के 50% अफसरों को ऑफिस बुला सकते है। और अगर ऐसा होता है तो सभी एम्प्लॉयज़ को ऑफिस में एंट्री करते वक्त, एग्जिट करते वक्त और ऑफिस में तीनो समय सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना होगा। इसी के साथ साथ वह कोविड प्रोटोकॉल को भी फॉलो करेंगे।

इस कड़ी में मिनिस्ट्री ने कहा की जो अफसर वर्क फ्रॉम होम करेंगे या किसी खास दिन दफ्तर नहींजाएंगे , उन्हें ऑफिस टाइम के दौरान टेलीफोन, मोबाइल, ई-मेल पर मुस्तैद रहना होगा। जानकारों की माने तो इस फरमान के तहत अब सरकारी दफ्तरों में विजिटर्स को एंट्री नहीं दी जाएगी।

यह भी पढ़ें :  RRA 2.0 : रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने नए रेगुलेशन रिव्यू अथॉरिटी का किया गठन

Related Articles