होमगार्डों की नए साल में हो गई बल्‍ले-बल्‍ले

देहरादून। उत्‍तराखंड में होमगार्डों को नए साल में नई सौगात मिली है। होमगार्ड सिपाहियों से संबंधित ऐसे सभ्‍ाी मामले जो शासन स्‍तर पर लंबित हैं उनका निस्‍तारण करने के निर्देश गृहमंत्री प्रीतम सिंह ने जारी कर दिए हैं। प्रमुख सचिव को दिए निर्देशों में गृहमंत्री ने कहा है कि समस्‍त प्रक्रियाएं जल्‍द से जल्‍द पूरी की जाएं।

गृहमंत्री आज अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। प्रमुख सचिव  ने इन सभी विषयों पर अधिकारियों से चर्चा की। जिस पर अधिकारियों द्वारा विभाग के कर्मचारियों के संबंध में विभागीय मंत्री को बताया कि उत्तर प्रदेश की भांति होमगार्डस बल को बहुप्रयोजन फोर्स बनाने महत्वपूर्ण प्रस्ताव शासन में लम्बित है, जिसके लिए मंत्री ने प्रस्ताव शीघ्र पूर्ण कर इन होमगार्ड को मल्टीटास्किंग फोर्स के रूप में तैयार करने को कहा।

होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के केन्द्रीय प्रशिक्षण संस्थान बनाये जाने के लिए थानों रैंज नौगांव चक में शासन द्वारा चार हेक्टेयर भूमि आवंटित की गयी थी, जिस परं 25 प्रतिशत से अधिक का निर्माण कार्य हो चुका है।  उक्त संस्थान में होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के केन्द्रीय प्रशिक्षण संस्थान हेतु पद स्वीकृत किये जाने का प्रस्ताव शासन में लम्बित होने को भी मंत्री शीघ्र नियमावली के तहत पदों को भरे जाने की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिये। अधिकारियों ने बताया कि उत्तराखण्ड राज्य के जनपदों में बढती हुई ड्यूटी की मांग के दृष्टिगत् स्वीकृत नियतन बढाये जाना आवश्यक है। जिसकी सहमति हेतु शासन ने भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा जा चुका है।

इतना बढ़ा है भत्‍ता और मानदेय

मंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा दिवस 2015 के अवसर पर प्रथम बार आयोजित रैतिक परेड में मुख्यमंत्री द्वारा होमगार्डस का ड्यूटी भत्ता रू0 350 से बढाकर रू0 400 प्रतिदिन कर दिया गया है। साथ ही होमगार्डस के अवैतनिक कम्पनी कमाण्डर का मानदेय रू0 900से बढाकर रू0 1500 सहायक कम्पनी कमाण्डर का मानदेय रू0 700 से बढाकर रू0 1200 तथा प्लाटून कमाण्डर का मानदेय रू0 600 से बढाकर 1000 प्रतिमाह किये जाने के आदेश दिए हैं।

होमगार्डस विभाग के चतुर्थ श्रेणी रू0 1350 बी0 ओ0 हवलदार प्रशिक्षक, मिनिस्टिीरीयल संवर्ग तथा चालक को रू0 1500 एवं वैतनिक प्लाटून कमाण्डर, निरीक्षक, जिला कमाण्डेट, मण्डलीय कमाण्डेन्ट को रू0 1275 पौष्टिक आहार भत्ता प्रतिमाह किये जाने, होमगार्डस विभाग के राजपत्रित अधिकारियों को वर्दी भत्ता रू0 3750 नवीनीकरण भत्ता प्रति 03 वर्ष व अनुरक्षण भत्ता रू0 120 तथा अराजपत्रित अधिकारियों को वर्दी भत्ता रू0 3000 नवीनीकरण भत्ता प्रति 03 वर्ष व अनुरक्षण भत्ता रू0 150 किये जाने के आदेश दिए हैं।

होमगार्डस विभाग के अवैतनिक पदाधिकारियों तथा होमगार्डस की सेवाकाल के दौरान मृत्यु हो जाने पर उनके आश्रितों को अवैतनिक होमगार्डस के पद पर नियुक्त किये जाने, भविष्य में मृतक होमगार्डस के आश्रितों को होमगार्डस कल्याण कोष के अतिरिक्त मुख्यमंत्री के विवेकाधीन कोष से रू0 1,00,000/- दिये जाने, प्रथम बार आयोजित रैतिक परेड से सम्बन्धित होमगार्डस व अन्य कर्मियों द्वारा किये गये शानदार उच्चकोटि के प्रदर्शन के लिए उत्साहवर्धन तथा उच्च मनोबल हेतु रू0 पांच लाख किये जाने, नागरिक सुरक्षा के स्वयं सेवकों का प्रशिक्षण भत्ता रू0 22 से बढाकर रू0 100 किये जाने सम्बंधी घोषणाओं पर शीघ्र प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button