हाईकोर्ट के आदेश पर बेघर हुए लोग, आखिर क्यों 28 मकानों पर चली जेसीबी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में लगतार अवैध कब्ज़ा करने वालो पर हंटर चलाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हाईकोर्ट (High-Court) के आदेश पर कई अवैध निर्माणों को ढहाया गया। लखनऊ के कैंट थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कसाईबाड़ा इलाके में छावनी प्रशासन द्वारा अवैध रूप से बने 28 मकानों को हाईकोर्ट (High-Court) के आदेश पर गिरा दिया गया।

बताया जा रहा कि कि ध्वस्त किये गए इन 28 मकानों को अवैध रूप से बनाया गया था। हाई कोर्ट (High-Court) के आदेश पर इन अवैध निर्माणों पर जेसीबी चलाई गई और इन्हे ढहा दिया गया। जब अवैध कब्जे वाली जमीन पर बनाये गए इन घरों को गिराया जा रहा था उस दौरान एसीएम (ACM) और रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) के अधिकारी भी मौजूद थे। कार्रवाई के दौरान कैंट पुलिस भी मौजूद रही।

इन 28 घरों में जो परिवार रह रहे थे वो अपना आशियाना छिन जाने के बाद रोते और बिलखते हुए नजर आये। बेघर होने के बाद उन लोगो का दर्द उनकी आँखों से छलकता हुआ नजर आ रहा था। उन लोगो को शायद ये बात समझ नहीं आ रही थी कि बेघर होने के बाद हम आखिर कहाँ जायेंगे। ढहाए गए मकानों में रहने वालो को एक माह पूर्व ही नोटिस दे दिया गया था। छावनी परिषद के द्वारा इन 28 मकानों को खाली करने का नोटिस दिया गया था। जिसके बाद हाई कोर्ट (High-Court) के आदेश पर कार्रवाई करते हुए इन घरों पर जेसीबी चलाई गई।

ये भी पढ़ें: HC ने राज्य निर्वाचन आयुक्त को 17 फरवरी तक ‘ई-वॉच’ ऐप के यूज पर लगाई रोक

Related Articles

Back to top button