तो राम रहीम की ‘हनी’ पर नहीं चलेगा देशद्रोह का मुकदमा…

नई दिल्ली: रेप के दो मामलों में जेल की हवा खा रहे डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरमीत राम रहीम की कथित प्रेमिका और मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा को बड़ी राहत मिल सकती है। बताया जा रहा है कि उनपर लगा देशद्रोह का आरोप हटाया जा सकता है। केवल हनीप्रीत ही नही बल्कि राम रहीम की गिरफ्तारी के दौरान पंचकुला में फैली हिंसा के जिम्मेदार भक्तों पर से भी देशद्रोह के आरोप हटाए जा सकते हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, हनीप्रीत और राम रहीम के भक्तों के खिलाफ कोई प्रमाणिक सबूत प्राप्त नहीं हुए हैं जिसकी वजह से उनपर लगा देशद्रोह के आरोप को खारिज किया जा सकता है। इसके पहले पंचकुला की अदालत 53 डेरा समर्थकों के खिलाफ देशद्रोह का आरोप खारिज कर चुकी है।

आपको बता दें कि बीते 25 अगस्त 2017 को जब रेप के दो मामलों में सीबीआई की अदालत ने राम रहीम को दोषी करार दिया था तब डेरा समर्थकों ने पंचकुला में कई हिंसक वारदातों को अंजाम दिया था और जमकर आगजनी की थी। इस हिंसक वारदात के दौरान कई लोगों की मौत भी हो गई थी। डेरा समर्थकों को इस हिंसा के लिए भड़काने का आरोप हनीप्रीत पर लगा था। इस हिंसक कार्रवाई के चलते हनीप्रीत और 14 अन्य डेरा समर्थकों के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 150, 153, 121, 121ए और 120बी के तहत देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने के आरोप में केस दर्ज हैं।

इसी वर्ष फरवरी माह में सबूतों के अभाव में अदालत ने 53 डेरा समर्थकों के खिलाफ देशद्रोह का आरोप खारिज कर दिए थे। हालांकि इन 53 डेरा समर्थकों के खिलाफ अन्य मामलों में अभी भी केस दर्ज हैं।

Related Articles