सवालो के घेरे में आप विधायक, कोरोना पॉजिटिव होकर कैसे पहुंचे हाथरस

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के कोंडली सीट से विधायक कुलदीप कुमार हाथरस यात्रा के बाद दिक्कतों में फसते हुए नजर आ रहे है . कुलदीप कुमार चार अक्टूबर को पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस पहुंचे थे. अपनी मुलाकात के दौरान वो फेसबुक पर लाइव भी हुए थे . इससे पहले 29 सितंबर को AAP विधायक ने ट्वीट कर बताया था कि वो कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था कि उनको हल्का बुखार हुआ, जिसके बाद उनका कोरोना टेस्ट कराया गया. टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसलिए वो होम आइसोलेशन में रहेंगे.

विधायक कुलदीप कुमार
विधायक कुलदीप कुमार

लेकिन 14 घंटे पुराने उनके एक अन्य ट्वीट ने उन्हें सवालो के घेरे में लाकर खड़ा कर दिया जिसमे उन्होंने लिखा है कि अभी हाथरस में पीड़िता के परिवार से मिलकर लौटा हूं. परिवार में डर और भय का माहौल पैदा किया जा रहा है. ये लोकतंत्र और संविधान की हत्या है. उन्होंने लिखा की उत्तर प्रदेश में योगी राज में क़ानून नहीं जंगल राज चल रहा है.

बीजेपी ने AAP विधायक को इन दो ट्वीट के जरिये घेर लिया. बीजेपी ने सवाल उठाते हुए कहा है कि विधायक पर एपिडेमिक एक्ट के तहत कार्रवाई क्यों ना हो? बीजेपी ने अपने ट्वीट में लिखा की “29 सितम्बर को केजरीवाल के विधायक अपने आप को कोरोना पॉजिटिव बता रहे हैं और 4 तारीख को सभी की जान जोख़िम में डालकर ये घटिया राजनीति करने हाथरस चले गए. कौन से प्रोटोकॉल के तहत ये 5 दिन में हाथरस गए? इनपर एपिडेमिक एक्ट के तहत तुरंत कार्यवाही होनी चाहिए.”

जबकि कोंडली विधायक कुलदीप कुमार ने दावा किया है की उन्होंने हाथरस जाने से पहले अपना कोरोना टेस्ट कराया था, जिसमें उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. विधायक ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की थी जिसमे उन्होंने बताया था की उन्होंने रैपिड एंटीजन टेस्ट कराया था लेकिन आपको बताते चले कि ICMR द्वारा जारी की गाइडलाइन्स के मुताबिक रैपिड एंटीजन टेस्ट में आया नेगटिव कन्फर्म नेगेटिव नहीं माना जा सकता है.

यह भी पढ़े:हाथरस गैंगरेप: डीएम प्रवीण को योगी सरकार के सवालों ने घेरा, हो सकती है कार्रवाई

Related Articles