IPL
IPL

BJP का सवाल सरकार बताये चार साल में कितने युवाओं को नौकरी दी

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा नौजवानों को रोजगार दिलाने जाने की बात करने को छलावा बताते हुए सवाल किया कि मुख्यमंत्री यह तो बताये इन चार वर्षों में बेरोजगारों को कितनी नौकरियां दीं ?

वादे किये, दावे किये नौकरी नहीं मिली

प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि सरकार ने युवाओं से वादे तो किये, दावे भी किये पर युवाओं को नौकरियां मिल नहीं पायीं। इतना ही नहीं नौकरियां उपलब्ध कराने के लिए बने आयोग तक सवालों के घेरे में रहे।  उन्होंने कहा कि बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कर सत्ता में आयी समाजवादी पार्टी सरकार ने बेरोजगारों के साथ छल और छलावा किया है। बेरोजगारी भत्ता तो बांट नहीं पायी बेरोजगारों को मिलने वाली नौकरियों पर सरकार की नीतियों के कारण ग्रहण लगता रहा। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि सभी विभागों में नौकरियां निकालने के लिए कहा गया है किन्तु पिछले चार वर्षों मे जो स्थान रिक्त थे उन्हें समय बद्ध ढग से अभियान चलाकर भरने के प्रयास क्यों नहीं हुए।

पर्यवेक्षक नियुक्त किये जाने की मांग

पार्टी के प्रतिनिधि मंडल ने राज्य निर्वाचन आयुक्त से भेट कर हापुड़ जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव निष्पक्ष कराये जाने के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किये जाने की मांग की। प्रतिनिधि मंडल में पार्टी के प्रदेश मंत्री वीरेन्द्र तिवारी, प्रदेश संयोजक मानवाधिकार प्रकोष्ठ कुलदीप पति त्रिपाठी आदि सम्मिलित थे।

भाजपा प्रत्याशी को धमकाने का आरोप

राज्य निर्वाचन आयुक्त को भाजपा प्रतिनिधि मण्डल ने अवगत कराया कि हापुड़ में जिला पंचायत पद हेतु प्रत्याशी अमृता कुमार पत्नी राजेन्द्र कुमार तथा उनके समर्थकों को समाजवादी पार्टी के लोगो द्वारा डराया धमकाया जा रहा हैं तथा स्थानीय प्रशासन द्वारा भी उत्पीड़न कार्यवाही की जा रही है। ऐसे में हापुड़ में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव निष्पक्ष हो पाना लगभग असम्भव सा हो गया है।

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button