पेट्रोल और डीज़ल के बढ़ते दामों पर कितना टैक्स लगाती है मोदी सरकार ?

पेट्रोल के बढ़ते दाम पर सबके मन में एक ही सवाल है कि आखिर केंद्र सरकार टैक्स में कटौती कर बढ़ते दाम पर अंकुश क्यों नहीं लगा रही है। 

नई दिल्ली: पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों ने आम जनता की कमर तोड़ रखी है, बढ़ोत्तरी के बाद ईंधन के दाम देश में अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए हैं। कई राज्यों में पेट्रोल 100 रुपये के पार जा चुका है। आज लगातार 12वे दिन पेट्रोल और डीज़ल के दामों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। इस बात को लेकर सबके मन में एक ही सवाल है कि आखिर केंद्र सरकार टैक्स में कटौती कर बढ़ते दाम पर अंकुश क्यों नहीं लगा रही है।

पेट्रोल पर कितना टैक्स लगाती है सरकार 

तेल के बढ़ते दामों का सबसे बड़ा कारण है इन पर लगने वाला टैक्स। आइये इसे समझने के लिए देश की राजधानी दिल्ली का उदाहरण लेते है। जैसे दिल्ली में बेस कीमत 31.82 रुपये प्रति लीटर है उसके बाद उसमें ढुलाई के 28 पैसे और जुड़ गए। इसके बाद ऑयल मार्केटिंग कंपनियां यह तेल 32.10 रुपये के भाव से डीलर्स को बेचती हैं। इसके बाद केंद्र सरकार हर लीटर पर 32.90 रुपये का एक्साइज ड्यूटी जोड़ता है। जिसके बाद एक झटके में पेट्रोल की कीमत 65 रुपये पहुँच जाती है। और फिर पेट्रोल पंप डीलर इसमें अपना मुनाफा 3.68 रुपये लेता है। और जिस राज्य में यह बेचा जाता है वहां की सरकार भी इसमें वैद जोड़ता है, जैसे दिल्ली में वैट 20.61 पैसे जुड़ जाता है इस तरह 31.82 का तेल 89.29 रुपये पहुँच जाता है।

12वें दिन भी पेट्रोल और डीजल का दाम बढ़ा
12वें दिन भी पेट्रोल और डीजल का दाम बढ़ा

2021 में Petrol 6.77 रुपये महंगा हुआ 

Petrol और Diesel की कीमतें अब तक के सर्वोच्चतम स्तर पर पहुंच चुकी हैं। इस समय लगभग हर शहरों में दोनों ईधनों के दाम सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर चल रहे हैं। नया साल पेट्रोलियम ईंधनों के लिए अच्छा नहीं रहा है। जनवरी और फरवरी में अब तक कुल मिलाकर 24 दिन ही Petrol महंगा हुआ, लेकिन इतने दिनों में ही यह 6.77 रुपये महंगा हो गया है। पेट्रोल के साथ ही डीजल की कीमत भी रिकार्ड बनाने की राह पर अग्रसर है। वहीँ नए साल में 24 दिनों के दौरान ही डीजल 7.10 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है।

इन शहरो में पेट्रोल और डीजल के दाम

दिल्ली 90.58–80.97

मुंबई 97.00–88.06

कोलकाता  91.78–84.56

चेन्नई 85.63–85.98

यह भी पढ़े: प्रियंका गांधी ने कहा, “BJP को उस दिन का नाम ‘अच्छा दिन’ कर देना चाहिए”

Related Articles

Back to top button