आगरा में पारा 46 पार, पर्यटकों की संख्या में आई भारी गिरावट

0

आगरा। ताजमहल और अन्य ऐतिहासिक स्मारकों के दीदार के लिए आगरा जाने वाले पर्यटक तेज गर्मी से परेशान हैं क्योंकि यहां तापमान 46 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया है। इसके चलते ताज नगरी में पर्यटकों की संख्या में भारी गिरावट नजर आ रही है।

शनिवार को ताजनगरी के अधिकांश बाजार वीरान दिखे क्योंकि अधिकांश पर्यटकों ने तेज गर्मी के कारण ताजमहल और अन्य लोकप्रिय स्थलों पर जाने से गुरेज किया। टूरिस्ट गाइड वेद गौतम ने कहा, “इन दिनों पर्यटक सुबह या शाम चार बजे के बाद ताज पहुंच रहे हैं। यहां चारों और रंग-बिरंगे छाते नजर आ रहे हैं। शीतल पेय और फिल्टर किए गए पानी की बिक्री बढ़ गई है।”

ओडिसा से आए एक पर्यटक संतोष कुमार ने शिकायती लहजे में कहा कि तेज धूप के कारण ताजमहल में लाल पत्थरों से बने रास्ते भट्टी की तरह तप रहे हैं, जिन पर चलना मुश्किल है। सूखी यमुना का नजारा भी पर्यटकों को भा नहीं रहा। कई पर्यटकों ने स्मारकों में विशेष रूप से आगरा के किले और फतेहपुर सीकरी में निशुल्क पेयजल जैसी सुविधाओं की कमी की शिकायत की।

आगरा बीट्स नामक यात्रा समूह के अमित सिसोदिया ने आईएएनएस को बताया, “विदेशियों की उपस्थिति यहां न के बराबर है और घरेलू पर्यटकों की संख्या में भी भारी गिरावट दिखाई दे रही है। स्मारकों में जल सुविधाएं पर्याप्त नहीं हैं।”उन्होंने कहा, “ताजमहल के रॉयल गेट से मुख्य ढांचे तक लंबा रास्ता है, जिस पर कोई छांव नहीं है। कई बुजुर्ग पर्यटकों को गर्मी में यह रास्ता पार करना भारी पड़ रहा है और वे पेड़ों के छांव का आश्रय लेते नजर आ रहे हैं।”

loading...
शेयर करें