Hyundai ने पार किया ऐसा मील का पत्थर, जो अन्य के लिए बनी बड़ी चुनौती

0

नई दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी कार निर्माता और सबसे बड़ी निर्यातक ह्युंडई मोटर्स ने 80 लाखवीं कार के निर्माण का मील का पत्थर पार कर लिया है, जोकि लोकप्रिय एसयूवी – नई 2018 क्रेटा है।

भारती एक्सा लाइफ इंश्योरेंस ने पहली बार कमाया मुनाफा, 20 प्रतिशत…

ह्युंडई मोटर्स

कंपनी ने सोमवार को यह जानकारी दी। ह्युंडई मोटर्स ने एक बयान में कहा कि सबसे तेजी से 80 लाखवीं कार का निर्माण, कंपनी के भारतीय बाजार में 20 सालों की उल्लेखीय सफल यात्रा और यात्रियों की आकांक्षाओं पर खरा उतरते हुए विश्वस्तरीय आधुनिक प्रीमियम और बेचमार्क उत्पादों को मुहैया कराने की प्रतिबद्धता का द्योतक है।

मंहगाई के आंकड़ें और विदेशी संकेतों से तय होगी शेयर बाजार…

बयान में कहा गया कि अपनी स्थापना के बाद से ह्युंडई मोटर्स इंडिया भारतीय बाजार में कुल 53,00.967 वाहनों की बिक्री कर चुकी है तथा 27,03,581 वाहनों का निर्यात किया है। भारतीय बाजार में साल 2006 में ह्युंडई ने अपनी पहली कार सांत्रो को लांच किया था। कंपनी ने एक लाखवीं कार के निर्माण का पड़ाव स्थापना के 18-19 महीनों में हासिल किया था।

कंपनी ने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में घरेलू बाजार में उसने अबतक सर्वाधिक 5,36,241 वाहनों की बिक्री की है, जोकि साल-दर-साल आधार पर 5.2 फीसदी की वृद्धि दर है।

ह्युंडई मोटर इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी वाई. के. कू ने बताया, “भारत के सबसे प्यारे और भरोसेमंद ब्रांड बनने की हमारी विकास यात्रा में, हमने अपनी सीमाओं का प्रयत्वपूर्वक विस्तार किया है और हर कदम पर नई चुनौतियों का सामना किया है। मैं इस उपलब्धि को हमारे मूल्यवान ग्राहकों और ह्युंडई परिवार के हर सदस्य को समर्पित करता हूं।”

loading...
शेयर करें