मैंने टेलीविजन भी किया है और किताब भी लिखी है: विक्रम भट्ट

0

मुंबई: लेखक, निर्देशक एवं निर्माता विक्रम भट्ट को फिल्म निर्माता के बजाय कथाकार कहलाना ज्यादा पसंद है। वह कहते हैं कि उनके लिए कहानी दिखाने के लिए मंच मायने नहीं रखता।

भट्ट ने बुधवार को वीबी पर अपना ओटीटी (शीर्ष पर) मंच जारी किया।

उन्होंने कहा, “मैं फिल्मकार नहीं हूं, बल्कि कथाकार हूं। इसमें अंतर है। मैंने टेलीविजन भी किया है और किताब भी लिखी है। मुझे कहानियां सुनाना पसंद है और यह यात्रा वास्तव में फेसबुक से शुरू हुई।”

उन्होंने कहा, “मैं एक दिन में एक कहानी लिखता था और वे कहानियां इतनी लोकप्रिय हुई कि मुजे इन पर लघु फिल्में बनाने के लिए कई प्रोडक्शन हाउस से प्रस्ताव मिले। इस तरह डिजिटल माध्यमों पर मेरा रुझान बढ़ा।”
 

loading...
शेयर करें