‘निर्भया जैसा अगर मेरी बेटी के साथ हुआ होता तो दोषी को गोली मार देता’

kt3नई दिल्‍ली। देश में निर्भया के दोषी को रिहा किए जाने का विरोध हो रहा है। वहीं राज्‍यसभी में भी जुवेनाइल बिल को लेकर बहस छिड़ी हुई थी। हालांकि लम्‍बी चर्चा के बाद राज्‍यसभा में जुवेनाइल जस्टिस बिल ध्‍वनिमत से पारित कर दिया गया।जुवेनाइल बिल का समर्थन करते हुए राज्‍य सभा में तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन ने कहा कि भगवान ना करे कभी किसी के साथ निर्भया जेसा हो। लेकिन अगर ऐसा मेरी बेटी के साथ हुआ होता तो मैं दोषी को गोली मार देता।

सांसद ने कहा कि मुझे दुख है कि आज ऐसे हैवान को रिहा किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि मैं अगर होता तो इस मामले में किसी वकील को हायर नहीं करता या कोर्ट का दर्वाजा नहीं खटखटाता। सीधे गोली मार देता। उन्‍होंने कहा कि वह यह पूरे होश में और जिम्‍मेदारी के साथ बोल रहे हैं। वह ऐसा कहने को लेकर मजबूर हैं।

ओब्रायन ने कहा कि वह संसद से कहना चाहते हैं कि वह इस विधेयक को पास करे। पूरी जनता यह चाहती है। हमें एक आदर्श विधेयक का इंतजार नहीं करना चाहिए। यह एक अच्छा बिल है। आने वाले समय में इस बिल के पास होने से देश में काफी बदलाव होंगे।

बिल पास करने में जल्‍दबाजी ना करें

वहीं राज्यसभा की सदस्य अनु आगा और माकपा सांसद वृंदा करात ने इस विधेयक को जल्दबाजी में पास करने के बजाय इसे सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग की। अनु आगा ने कहा कि ऐसी हरकतों को रोकने के लिए मानवीय रास्ता अपनाने की जरूरत है। अपराधियों की उम्र घटाना समाधान नहीं है। हमें बिना सोचे समझें प्रतिक्रिया नहीं देनी चाहिए। बल्कि इस विधेयक को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button