ICAI 73rd Foundation Day: फाइनल CA छात्रों की फीस माफ, जल्द होगी Notification जारी

ICAI ने अपने 73rd Foundation Day पर फाइनल CA छात्रों की कोर्स फीस माफ की है, इस संबंध में विस्तृत अधिसूचना जारी की जाएगी

नई दिल्ली: इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) भारत सरकार के कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के अधिकार क्षेत्र में भारत का राष्ट्रीय पेशेवर लेखा निकाय है। यह 1 जुलाई 1949 को भारत में पेशे को विनियमित करने के लिए संसद द्वारा अधिनियमित चार्टर्ड एकाउंटेंट्स अधिनियम, 1949 के तहत एक वैधानिक निकाय के रूप में स्थापित किया गया था।

ICAI अपने 73वें स्थापना दिवस पर, आज 1 जुलाई 2021 को, इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया ने उन फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल सीए छात्रों की कोर्स फीस माफ की, जिन्होंने Covid-19 के कारण अपने माता-पिता को खो दिया। इस संबंध में विस्तृत अधिसूचना जारी की जाएगी।

सबसे बड़ा Accounting & Finance निकाय

इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया सदस्यता और छात्रों की संख्या के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पेशेवर लेखा और वित्त (Accounting & Finance) निकाय है। ICAI भारत में वित्तीय विवरणों के ऑडिट में अपनाए जाने वाले ऑडिटिंग (SAs) के मानकों को स्थापित करने के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार और जवाबदेह है।

ICAI की स्थापना सनदी लेखाकार अधिनियम (Chartered Accountants Act), 1949 के तहत ‎भारत में लेखांकन के पेशे के विनियमन के उद्देश्य से की गयी थी। यह एक चार्टर्ड एकाउंटेंट (Chartered Accountant) बनने की योग्यता को निर्धारित करता है, परीक्षा लेता है और लेखांकन की प्रेक्टिस करने का लाइसेंस देता है। इसके अलाव यह सरकारी संस्थाओ जैसे की RBI, SEBI, MCA, CAG, IRDA आदि को नीति निर्माण मे सहयोग करता है।

 

ICAI कंपनियों पर लागु होने वाले लेखा मानको की सिफारिश लेखांकन मानकों की राष्ट्रीय सलाहकार समिति (NACAS) से करती है और अन्य संगठनों पर लागू होने वाले लेखा मानकों का निर्धारण करती है। कोई भी व्यक्ति निर्धारित परीक्षाओं मे भाग ले कर और तीन साल के व्यावहारिक प्रशिक्षण के दौर से गुजर कर ICAI का सदस्य बन सकता है। सदस्यता की परीक्षा अपने कठोर मानकों के लिए जानी जाती है। चार्टर्ड अकाउंटेंट अपने व्यावहारिक अनुभव से देश की अर्थव्यवस्था में बहुत बड़ी मदद भी करते हैं।

यह भी पढ़ेHappy Birthday Akhilesh Yadav: सपा कार्यकर्ताओं ने केक काटकर मनाया जश्न, सीएम Yogi ने दी बधाई

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles