वे 70 साल में काम पूरे करने का दावा नहीं कर सके तो मैं 5 साल में कैसे कर सकता हूं:- मोदी

पटना: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को ओडिशा और बिहार में तीन रैलियां कीं। उन्होंने कहा, ”मैंने कभी दावा नहीं किया कि सभी काम पूरे कर लिए, वो (कांग्रेस) 70 साल में नहीं कर सके तो मैं पांच साल में कैसे कर सकता हूं। आगे बहुत कुछ करने का माद्दा है। इसके लिए लगातार प्रयास और आशीर्वाद की जरूरत है।” कालाहांडी की रैली में कांग्रेस और बीजद पर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि विक्षप ने वोट बैंक के लिए गरीब को गरीब बनाए रखने की साजिश रची।

 

गया में प्रधानमंत्री ने कहा, ”आपके इस चौकीदार ने आपके लिए जो कुछ भी किया है, उससे आप खुश हैं? बाकी जो काम बचा है, वो भी यही चौकीदार पूरा करेगा। यहां धमाके बंद किसने कराए? ये आपके वोट की ताकत से ही संभव हो पाया। दिल्ली में चौकीदार की सरकार बनी और परिणाम आपके सामने है। आज देश में दो तरह के लोगों को चौकीदार से दिक्कत है। एक महामिलावट वाले और दूसरे जो आतंकवादियों के साथ खड़े हुए हैं।”

जमुई में बोले- कांग्रेस और राजद बताएं क्या उमर के साथ हैं?

मोेदी ने कहा, ”उमर अब्दुला देश में दो प्रधानमंत्री चाहते हैं, उनके सहयोगी दलों कांग्रेस और राजद बताना चाहिए कि क्या वे उनके साथ हैं। मैं इंतजार कर रहा था कि कोई साथी तो विरोध करे, लेकिन सबने चुप्पी साध ली। उनकी चुप्पी असलियत को सामने ला रही है। राष्ट्रीय सुरक्षा और पुलवामा हमले पर जो बयान दे रहे हैं। उनका हिसाब चुनाव में चुकता होना चाहिए। उनके विचार भारत के खिलाफ और टुकड़े-टुकड़े गैंग को समर्थन देने वाले हैं।”

कालाहांडी में ही राजीव गांधी ने एक रुपया वाली बात कही थी

  • प्रधानमंत्री ने कालाहांडी में कहा कि आजादी के 70 साल बाद पहली बार ओडिशा के 3 हजार गांवों को बिजली मिली है। इन सारी चीजों को मोदी ने नहीं बल्कि भारत के लोगों ने किया है। इसी कालाहांडी में राजीव गांधी ने कहा था कि वे दिल्ली से एक रुपया भेजते हैं, तो गांव में 15 पैसे पहुंचता है। तब संसद से पंचायत तक सिर्फ कांग्रेस की ही सरकार थी। इसका मतलब ये है कि 85 पैसा किसी पंजे में जा रहा था।
  • जब दिल्ली में कांग्रेस की रिमोट कंट्रोल वाली सरकार आई, तो इन्होंने कहा कि 1 रुपए भेजने पर 15 पैसे नहीं, अब 16 पैसे पहुंचते हैं। यानी वर्षों बाद भी कांग्रेस के पंजे ने देश के गरीबों को सिर्फ 1 पैसे की राहत दी। आज मैं गर्व से कह सकता हूं कि अगर केंद्र सरकार दिल्ली से गरीब के लिए 100 पैसा भेजती है, तो वो पूरा का पूरा गरीब तक पहुंचता है।

कांग्रेस ने करोड़ों लोगों पर हिंदू आतंकवाद का दाग लगाने की कोशिश की
मोदी ने 1 अप्रैल में महाराष्ट्र में वर्धा में कांग्रेस और राकांपा पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां वोट बैंक की राजनीति के लिए किसी भी हद तक जा सकती हैं। कांग्रेस ने देश के करोड़ों लोगों पर हिंदू आंतकवाद का दाग लगाने की कोशिश की। हिंदू कभी आतंकवाद करे, क्या इतिहास में ऐसी कोई घटना हुई?

Related Articles