ट्रेकिंग पर जाने का बना रहे है प्लान तो रखे इन बातों का ध्यान, अपनाए ये टिप्स

दुनिया में ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें घूमने- फिरने का ज्यादा शौक नहीं होता है, लेकिन उन्ही में होते है कुछ घुमक्कड़ लोग जिन्हें घुमने बहुत ज्यादा शौक होता है. इन लोगों की बात ही अलग होती है. घूमने के शौकीन लोग किसी रोमांचक जगह पर ट्रेकिंग के लिए जाने का मौका कभी अपने हाथ से कभी जाने नहीं देते हैं. ऐसे लोग एडवेंचर से भरपूर ट्रेकिंग को काफी एन्जॉय करते हैं. इन्हें पहाड़ों और खतरनाक जगहों पर ट्रेकिंग करना बहुत पसंद होता है. इस दौरान ग्रुप व दोस्तों के साथ घूमने और रोमांचक पलों को समेटने में काफी मजा भी आता है.
हालांकि ट्रेकिंग पर जाते समय सिर्फ स्टाइलिश कपड़े या जूते ही पैक करना काफी नहीं होता है. इस दौरान कई बातों को विशेष तौर पर ख्याल भी रखना पड़ता है, क्योंकि जरा सी लापरवाही से ट्रेकिंग का सारा मजा किरकिरा हो सकता है. आप ट्रेकिंग का पूरा लुत्फ उठा सकें, इसलिए हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ खास टिप्स जो आपके बेहद काम आ सकते हैं. ट्रेकिंग का लुत्फ आप तभी उठा सकते हैं जब पूरी प्लानिंग के साथ इस ट्रिप को प्लान करेंगे. इसके लिए सबसे जरूरी है कि आप ट्रेकिंग के लिए जहां जाने की प्लानिंग कर रहे हैं उसके बारे में पूरी जानकारी इकट्ठा कर लें. ट्रेकिंग पर निकलने से पहले ये सुनिश्चित कर लें कि उस जगह का मौसम, रूकने की व्यवस्था, रास्ता इत्यादि सही है या नहीं. ट्रेकिंग वाली जगह को लेकर पर्याप्त जानकारी से आप अच्छे से ट्रिप को एन्जॉय कर पाएंगे.

पहाड़ों पर ट्रेकिंग के दौरान आपको कई तरह की स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है. चढ़ाई के दौरान बॉडी में पानी की कमी न हो और बॉडी बैलेंस्ड रहे, इसलिए अपने साथ पर्याप्त पानी का इंतजाम करते हुए चलें. ट्रेकिंग के दौरान अगर शरीर में पानी की कमी रहो गई तो आपको सिरदर्द, चक्कर और कमजोरी की समस्या हो सकती है, इसलिए अपनी बॉडी को हाइड्रेट रखें.

वैसे तो हर रोज अपने दिन की शुरुआत हेल्दी ब्रेकफास्ट के साथ करना चाहिेए, लेकिन अगर आप ट्रेकिंग पर जा रहे हैं तो आपको बगैर नाश्ता किए नहीं निकलना चाहिए. दरअसल, ट्रेकिंग के दौरान बॉडी में एनर्जी बनाए रखना बेहद जरूरी होता है और इसमें सुबह का नाश्ता आपकी काफी मदद कर सकता है. सुबह का हेल्दी ब्रेकफास्ट ट्रेकिंग के दौरान लगने वाली भूख से भी बचाता है.

भले ही आपने ट्रेकिंग पर निकलने से पहले उस जगह के बारे में जानकारी इकट्ठा कर ली हो, लेकिन अगर आपके साथ ट्रेक लीडर है तो उसे फॉलो करना ही बेहतर होगा. दरअसल, ट्रेक लीडर को उस रास्ते और उसमें आनेवाली बाधाओं के बारे में जानकारी होती है, ऐसे में उसकी बात सुनकर आप किसी अनहोनी से बच सकते हैं. अगर आप दोस्तो के साथ ट्रेकिंग पर निकल रहे हैं तो ट्रेक लीडर को फॉलो करते हुए अपने ट्रिप का आनंद उठाएं.

ज़्यादातर ये देखा गया है की ट्रेकिंग के दौरान लोग एक-दूसरे से कॉम्पिटीशन करते नजर आते हैं, लेकिन आगे निकलने की चाह में तेज रफ्तार में चढ़ाई करना आपके लिए नुकसानदेह भी साबित हो सकता है. ऐसे में किसी भी तरह की समस्या से बचने के लिए अपनी बॉडी के स्टेमिना के मुताबिक ही चढ़ाई के दौरान अपनी रफ्तार को बढ़ाएं या घटाएं.

Related Articles