अगर आपने ग़रीब को ग़रीब रहने दिया तो आपसे बड़ा ग़रीब कोई नहीं- सोनू सूद

महाराष्ट्र: कोरोना महामारी में एक्टर सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए एक मसीहा बनकर सामने आये और उनको घर पहुंचाने का बीड़ा अपने सर ले लिया। सोनू सूद ने सिर्फ महाराष्ट्र ही नहीं पूरे देश में फसे लोगों को उनके घर पहुंचाने में मदद की।

सोनू सूद
सोनू सूद

खाने से लेकर घर पहुंचने तक की ली जिम्मेदारी

घर से बहार फसे लोगों के खाने से लेकर घर पहुंचने तक की जिम्मेदारी सोनू सूद की टीम ने अपने कंधों पर ऐसे ले की मानों सारा संसार ही उनका परिवार है आज भी लगातार सोनू सूद और उनकी टीम गरीबो की मदद के लिए तत्परता से लगे हुए है। इसी बीच सोनू सूद ने एक ट्वीट किया जिसमे उन्होंने लिखा कि-अगर आपने ग़रीब को ग़रीब रहने दिया ..तो आपसे बड़ा ग़रीब कोई नहीं।

5 महीने के बच्चे के दिल का ऑपरेशन

आपको बता दे की सोनू सूद कोविड की शुरुआत से ही लोगों की मदद करने में अव्वल रहे है अब चाहे वो बच्चों तक ऑनलाइन पढाई के लिए मोबाइल पहुंचना हो या बीमार लोगों का इलाज कराना।

सोनू सूद ने एक पांच महीने के बच्चे का दिल का ऑपरेशन कराया जिसकी जानकारी उन्होंने खुद अपने ट्वीट के जरिये दी जिसमें उन्होंने लिखा कोई भी अपनी खुशी नहीं खोएगा 27 को यात्रा, 28 को सर्जरी हुई काम ख़त्म।

आपको बता दे की इससे पहले उन्होंने अपनी एक ट्वीट में लिखा था कि कोविड में अमीर और अमीर बन गया, शक्तिशाली और अधिक शक्तिशाली हो गया, बेचारा गरीब और गरीब हो गया है यह निष्पक्ष नहीं है।

Related Articles