ट्रेन से सफर करते हैं तो जानें- लगेज ले जाने के नियम, कितने किलो तक ले जा सकते है

नई दिल्ली: दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी रेल नेटवर्क भारतीय रेलवे में प्रतिदिन लाखों लोग सफर करते हैं. इन यात्रियों के साथ बड़े पैमाने पर सामान भी होता है. लेकिन, बहुत कम लोगों को ही सामान को साथ में ले जाने की अनुमति सीमा और बुकिंग के बारे में जानकारी होती है. ट्रेन में सामान की बुकिंग और उसे साथ ले जाने के कुछ नियम रेलवे की ओर से बनाए गए हैं.

एक यात्री अपने साथ 50 किलोग्राम तक का सामान बिना किसी एक्स्ट्रा पैसे दिए ले जा सकता है. इसके अलावा अलग-अलग श्रेणी के टिकट पर सामान ले जाने की सीमा अलग-अलग है. एसी टू टीयर के यात्री अपने साथ 50 किलोग्राम तक का सामान फ्री में ले जा सकते हैं. चार्ज के साथ अधिकतम 100 किलोग्राम तक का सामान ले जा सकते हैं.

ट्रेन में सामान की बुकिंग के लिए जरूरी है कि उसके ऊपर साफ शब्दों में अंग्रेजी या हिंदी में भेजने वाले का पता लिखा हो. ऐसा नहीं होने पर बुकिंग नहीं हो सकेगी. सामान की बुकिंग का चार्ज 100 किलोग्राम से ऊपर वाले पैकेज पर लागू होता है. इससे कम वजन वाले सामान को 100 किलोग्राम का ही माना जाएगा, चाहे उसका भार 100 किलोग्राम से कम ही क्यों न हो. हालांकि भार सीमा में 10 प्रतिशत तक की छूट है. वहीं विस्फोटक पदार्थ, खतरनाक और ज्वलनशील वस्तुएं और खाली गैस सिलेंडरों को बुक करने की अनुमति नहीं है. ट्रंक्स, सूटकेस और 100×60 सेंटीमीटर वाले बाक्सों को यात्रियों को अपने साथ ले जाने की अनुमति है. सभी यात्रियों को अपने साथ लाए सामानों को साथ ले जानें की अनुमति है. साथ ही 5 से 12 साल के बच्चों पर हॉफ टिकट लगता है.

Related Articles