Hacking में करियर बनाने की चाह है तो पढ़ें पूरी खबर, कमा सकते है ढेरों रूपए

लखनऊ : शाहरुख खान की हैप्पी न्यू ईयर से भारत की आम पब्लिक के बीच मशहूर हुआ शब्द Hacking आज किसी पहचान का  मुहताज नहीं है। आज क्या बच्चे, क्या बुज़ुर्ग सब इस जुमले से भली भांति परिचित है। यूँ तो इस शब्द की रचना उन लोगों के लिए की गई थी, जो कंप्यूटर और इंटरनेट  की अद्भुत गलियों में जा कर उसमे बड़े बदलाव करने में सक्षम होते थे लेकिन आजकल इस शब्द का उपयोग बेहरीन प्रोग्रामर्स के लिए किया जाने लगा है।

Hacking की दुनिया में भी है अच्छे और बुरे

राम और रावण की तरह कंप्यूटर और इंटरनेट इस दुनिया में भी अच्छे और बुरे लोग होते है। यह नियति का नियम भी है की जहाँ अच्छाई होगी वहां बुराई भी होगी। इस दुनिया में एक हैकर वह होते है जो सिस्टम की खामियों का लुत्फ़ उठकर लोगों और संस्थाओं को चपत लगाते रहते है जिन्हें तकनीकी ज़बान में ब्लैक हैट हैकर कहा जाता है,वहीँ दूसरे सिस्टम की खामियों को  उजागर करते रहते है ताकि मासूम लोग फ्रॉड और ब्लैक हैट हैकर से मेहफ़ूज़ रहें। इन देवदूतों को वाइट हैट हैकर कहा जाता है। हैकिंग के इस काम में दोनों हैकर की तकनीक तो एक ही होती है पर नियत में ज़मीन आसमान का अंतर होता है। एक लोगों को लूटने दूसरा लूटने से बचाने के लिए हैकिंग करता है। आमतौर पर इन वाइट हैट्स को कंप्यूटर, इंटरनेट फर्म्स खुद को हैक करने के लिए हायर करती है ताकि सिस्टम की खामियों को पहचान कर जल्द से जल्द दूर किया जा सके।

कंप्यूटर की समझ और जुझारू तबियत होना है ज़रूरी

अगर आप इस फील्ड में करीयर बनाना कहते है तो आपको चाहिए बारीक, पारखी नज़र, तेज़ दिमाग और साफ़ नियत। इस के साथ साथ कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की समझ हो तो यह सोने पर सुहागा है। इस के तहत आप नेटवर्क डिफेंडर, रिस्क मैनेजमेंट और क्वालिटी इंस्पेक्शन के रूप में अपनी सर्विस दे सकते है।

इस करियर में इज़्ज़त के साथ साथ तनख्वाह भी ज़बरदस्त है। इस कड़ी में एक रिपोर्ट के मुताबिक एक औसत एथिकल वाइट हैट हैकर सालाना नब्बे हज़ार अमेरिकी डॉलर तक कमा सकता है।

यह भी पढ़ें : इंडसइंड बैंक लोन घोटाला में Karvy के सीईओ, CFO  गिरफ्तार

 

 

 

Related Articles