देश की सेवा के लिए IIT छात्र ने छोड़ दी अमेरिका की हाई पैकेज नौकरी

0

हैदराबाद: आज के समय में शायद ही कोई युवा हो जो अच्छी नौकरी नहीं चाहता हो, लेकिन देश में एक युवा ऐसा भी हैं जिसने देश की सेवा के लिए विदेश में मिल रही नौकरी को ठुकरा दिया और सेना में एक अधिकारी के पद कर कार्यरत हो गया। दरअसल, हैदराबाद में रहने वाले मध्यवर्गीय परिवार के बरनाना याडगिरी ने IIT से पढ़ाई की और उसके बाद अमेरिका में मिल रही हाई पैकेज नौकरी को ठुकराकर सेना में भर्ती हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार, बरनाना के पिता हैदराबाद में सीमेंट की फैक्ट्री में काम करते थे। बरनाना का बचपन गरीबी में बीता था। बरनाना ने पढ़ाई में कड़ी मेहनत कर IIT से पढ़ाई पूरी की। बरनाना के पिता की सैलरी इतनी कम थी कि उन्होंने अपनी पढ़ाई भी सरकारी स्कॉलरशिप की मदद से पूरी की थी।

इसके बाद उन्हें अमेरिकी कंपनी यूनियन पैसिफिक रेल रोड से हाई पैकेज पर नौकरी का ऑफर मिला। हालांकि, उनकी मंशा कुछ और ही थी। उनके दिल में देश सेवा का भाव था, इसीलिए उन्होंने यह नौकरी ठुकरा दी।

इसके बाद 9 दिसंबर 2017 को उन्होंने  में भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून (IMA) में पासिंग आउट परेड में 409 नौजवान भारतीय सीमा ज्वाइन कर ली। यहां बड़ी मेहनत के बाद उनका नाम उन नौजवानों की फेहरिस्त में चयनित हुआ पासिंग आउट परेड में पास आउट घोषित किया गया था।

एक अंग्रेजी समाचार पत्र से बात करते हुए बरनाना ने बताया कि मेरे पिता बहुत साधारण इंसान हैं। उन्हें नहीं पता था कि मैं सेना में अधिकारी बनने वाला हूं। बल्कि वे तो ये सोच रहे थे कि मैं सेना में सैनिक बनने जा रहा हूं। यहां तक कि उन्होंने मुझसे सॉफ्टवेयर कंपनी की नौकरी करने के लिए कहा था। उन्हें लगता था कि वो नौकरी न करके मैंने गलती कर दी है।

loading...
शेयर करें