12 घंटे में सीआरपीएफ का दूसरा अधिकारी ने दी अपनी जान,मामले की जांच शुरू

जम्मू कश्मीर: सीआरपीएफ के एक एएसआई ने मंगलवार को अपनी सर्विस राइफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पिछले करीब 12 घंटों के भीतर कश्मीर घाटी में ये दूसरी घटना है। इससे पहले सोमवार को अनंतनाग में तैनात सीआरपीएफ के एसआई ने खुद को गोली मारकर जान दे दी थी। दोनों घटनाओं के पीछे कारण स्पष्ट नहीं हो पाया। फिलहाल मामलों की जांच जारी है।जानकारी के अनुसार श्रीनगर के करन नगर इलाके के पास नीलम सिनेमा में स्थित सीआरपीएफ की 49वीं बटालियन के एएसआई बंगाली बाबू (47) ने मंगलवार को अपनी ही सर्विस राइफल से खुद को गोली मार ली। एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि अचानक से यूनिट में गोली चलने की आवाज सुनाई देने पर जवान तुरंत मौके पर पहुंचे तो खून से लथपथ एएसआई जमीन पर गिरा हुआ था।उसे तुरंत पास के अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत लाया घोषित कर दिया। सीआरपीएफ के श्रीनगर सेक्टर के प्रवक्ता पंकज सिंह ने बताया कि एएसआई अच्छे से ड्यूटी कर रहा था। घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है। एएसआई बंगाली बाबू आगरा के रहने वाले थे।सुसाइड नोट में लिखा-मुझे कोरोना तो नहीं, मेरे शव को हाथ न लगाना

वहीं इससे पहले सोमवार देर रात दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले के मट्टन इलाके में सीआरपीएफ की 96वीं बटालियन के एसआई फतेह सिंह ने सर्विस राइफल से खुद को गोली मार आत्महत्या कर ली थी। फतेह सिंह जैसलमेर राजस्थान का रहने वाला था।पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें लिखा था कि मेरे शव को हाथ नहीं लगाना, डर है कि कहीं मुझे कोरोना तो नहीं है। इस बीच पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट जांच के लिए भेजी है। उसी से पता चलेगा कि वह पॉजिटिव था कि नहीं।

 

Related Articles

Back to top button