आज ही के दिन पुलवामा में वीर सपूतों ने दी थी कुर्बानी, शत-शत नमन

नई दिल्ली: आज 14 फरवरी है यानी कि Valentine Day. लेकिन भारत के लिए आज का दिन उन वीर सपूतों को याद करने का है जिन्होंने आज ही के दिन बेहद ही कायराना हमले में अपनी जान गंवाई. साल 2019 में आज के दिन जब पूरा विश्व वैलेंटाइन डे मना रहा था तब भारत कुछ पल के लिए खामोश हो गया था. खामोशी ऐसी थी जिसका शोर चारों ओर सुनाई दे रहा था.

जवानों के काफिले पर कायराना हमला

देश के हर वर्ग में गुस्सा था, इसके साथ ही सबकी आंखें नम हो गई थी. फरवरी 2019 को जब भारतीय सेना के 78 वाहनों का काफिला 2500 जवानों को लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहा था ठीक उसी वक्त इस काफिले पर कायराना हमला किया गया.

हमला उस वक्त हुआ जब काफिला अवंतीपोरा के पास लेथीपोरा में नेशनल हाईवे 44 से गुजर रहा था. दोपहर के 3:30 बज रहे थे, सबकुछ अब तक ठीक था. लेकिन इसी वक़्त 300 किलो आरडीएक्स से भरी एक एसयूवी गाड़ी जवानों के काफिले में जाकर टकरा जाती है, जिसकी वजह से भयंकर धमाका होता है. धमाका ऐसा की सड़क पर बस खून ही खून दिख रहा था.

40 वीर सपूतों ने गंवाई थी जान

आतंकी की एसयूवी 76वें बटालियन की जिस बस से टकराई थी  उसके परखच्चे उड़ गए थे. इस तरह आज ही के दिन भारत के 40 वीर सपूतों को आतंकियों के कायराना हरकत में अपनी जान गवानी पड़ी थी. जिस आतंकी ने इस हमले को अंजाम दिया था उसका नाम था आदिल अहमद डार था, 20 साल का आदिल जैश ए मोहम्मद का कमांडर था.

वीर सपूतों को नमन

आज उन वीर सपूतों को याद करने का दिन है जिन्होंने इस देश के लिए अपना सबकुछ कुर्बान कर दिया और हसते-हसते मौत को गले लगा लिया.

यह भी पढ़ें: बुजुर्ग माँ-बाप के देखरेख में हुई लापरवाही तो काट ली गई 30 प्रतिशत सैलरी

Related Articles

Back to top button