यूपी में दुष्कर्म के मामले में पंचायत ने सुनाया अजीब फरमान

0

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में दो सगी बहनों से दुष्कर्म के मामले में पंचायत ने फैसला बड़ा ही अजीबो-गरीब सुनाया हैं. यूपी के मेरठ जिले के सरधना थाना क्षेत्र के एक गांव में दो युवकों ने दो सगी बहनों के साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में पंचायत ने फैसले में कहा हैं कि आरोपी व उनके परिजन दोनों बहनों के निकाह का खर्च उठाएंगे।

यह मामला यूपी के मेरठ जिले का है। दोनों आरोपियों ने परिवार के सदस्यों को चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर दो सगी बहनों से दुष्कर्म किया। गांव के लोगों ने एक आरोपी को पकड़ लिया। पकडे गये आरोपी को पुलिस ने जेल भी भेज दिया हैं। इस मामले को लेकर गांव में पंचायत बैठ गयी और पंचायत ने एक अजीब ही फरमान सुना दिया. पंचायत ने कहा कि आरोपी और उनके परिजन दोनों बहनों के निकाह का खर्च उठाएंगे। युवतियों के परिजन आरोपी को थाने से छुडा लाएं।

मुल्हैड़ा पुलिस चौकी अंतर्गत एक गांव में तीन दिन पूर्व गांव के ही दो युवकों ने एक परिवार के सदस्यों को चाय में नशीला पदार्थ पिला दिया। इसके बाद दोनों युवकों ने घर में घुसकर दो सगी बहनों के साथ दुष्कर्म किया। इसी दौरान नींद खुलने पर युवतियों ने शोर मचाया। इस पर ग्रामीण एकत्रित हो गए। जिसमें एक आरोपी मौके से भाग निकला।

वही दूसरे को ग्रामीणों ने दबोच लिया। इसकी जानकारी पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी वहाब को पकड़कर चौकी लेकर चली गई। पीड़ित युवतियों के पिता ने चौकी पर वहाब पुत्र रसीद एवं ताजिम पुत्र यामीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोपियों के परिजनों ने रविवार को गांव में पंचायत बुला ली। पंचायत में युवतियों के परिजनों ने शर्त रखी कि दोनों आरोपी युवकों का युवतियों से निकाह हो। एक युवक के परिजन तैयार हो गये, लेकिन दूसरे युवक के परिजनों ने इंकार कर दिया।

इसके बाद सोमवार को फिर पंचायत बैठी। पंचों ने फरमान सुना डाला कि दोनों युवतियों के लिए वर की तलाश से लेकर निकाह करने तक समस्त खर्च की जिम्मेदारी आरोपियों के परिजनों को होगी। आरोपी एवं पीड़ितों के परिजन इस पर सहमत हो गए। पंचायत के फरमान के बाद पीड़ित युवतियों का पिता मुल्हैड़ा पुलिस चौकी पहुंचा और आरोपी को छोड़ेने को कहा। इस पर मुल्हैड़ा चौकी प्रभारी ने कोर्ट जाने की सलाह दी। पुलिस ने वहाब का चालान कर दिया।

loading...
शेयर करें