आईआरसीटीसी मामले में आज सीबीआई के सामने पेश हुए तेजस्वी, बोले- सच की होगी जीत

0

नई दिल्ली| राजद प्रमुख लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी यादव 2006 के आईआरसीटीसी होटल मामले में चल रही जांच के सिलसिले में शुक्रवार को सीबीआई के समक्ष पेश हुए। सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने बताया कि तेजस्वी से यहां सीबीआई मुख्यालय में पूछताछ की गई।

लालू से सात घंटे पूछताछ के बाद आज सीबीआई के सामने पेश हुए तेजस्वी

इस मामले में कल लालू प्रसाद से भी सात घंटों तक पूछताछ की गई थी। सीबीआई ने भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) के ठेके के मामले में लालू और तेजस्वी को 26 सितंबर को एक महीने में तीसरी बार समन भेजा था। तेजस्वी तीसरे समन के बाद सीबीआई के समक्ष पेश हुए।

बता दें, सीबीआई के समक्ष पूछताछ के लिए हाजिर होने के पूर्व तेजस्वी ने ट्वीट किया, “इनके फरेब और झूठ की रफ्तार भले ही तेज है, पर अंत में झूठ की पराजय और हमारे सत्य की विजय होगी। सच की डोर भले लम्बी हो, पर उसे कोई तोड़ नहीं सकता।”

ये है पूरा मामला

सीबीआई ने पांच जुलाई को लालू, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और तेजस्वी के खिलाफ 2006 में रांची और पुरी में आईआरसीटीसी के दो होटलों का ठेका निजी कंपनियों को देने में हुई कथित अनियमितताओं के कारण भ्रष्टाचार का मामला दायर किया था। उस समय लालू रेल मंत्री थे।

सीबीआई ने कहा कि विजय और विनय कोचर की स्वामित्व वाली एक कंपनी सुजाता होटल्स को ठेके दिए गए, जिन्होंने कथित तौर पर बिहार में एक प्रमुख भूखंड रिश्वत के रूप में लालू को दिया था।

प्रारंभिक सीबीआई जांच में पाया गया कि कोचर ने यह भूखंड डीलाइट मार्केटिंग को बेची और इसका भुगतान अहलूवालिया कॉन्ट्रैक्टर्स और इसके प्रमोटर बिक्रमजीत सिंह अहलूवालिया के माध्यम से किया गया।

प्रवर्तन निदेशालय ने 27 जुलाई को सीबीआई की प्राथमिकी के बाद धन शोधन निवारण रोकथाम अधिनियम के तहत एक अलग मामला दर्ज किया। वह शेल कंपनियों के माध्यम से धन के कथित हस्तांतरण के लिए लालू प्रसाद, तेजस्वी और अन्य की जांच भी कर रहा था।

loading...
शेयर करें