Video : करियर की आखिरी रेस में चोटिल होकर मैदान में गिरे बोल्ट, मिली दर्दनाक विदाई

0

लंदन। फिल्मों की कहानी की तरह जिंदगी की कहानी का अंत हमेशा शानदार नहीं रहता। ऐसे ही कहानी है दुनिया के महान धावक उसेन बोल्ट की। रेसिंग की दुनिया में सर्वश्रेठ स्थान हासिल करने वाले बोल्ट की इस दुनिया का अंत बेहद दर्दनाक रहा। बीती रात वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में उसेन बोल्ट आखिरी बार ट्रैक पर उतरे।

4X100 मीटर रिले रेस में इस महान धावक के साथ जो हुआ वो किसी बुरे सपने से कम नहीं था। बोल्ट न सिर्फ इस रेस में पदक जीतने से चूके बल्कि वह अपनी रेस भी पूरी न कर सके। बोल्ट की ऐसी विदाई देखकर उनके फैंस बुरी तरह टूट गए।

आखिरी रेस पूरी नहीं कर सके उसेन बोल्ट 

आठ ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट विनर उसेन बोल्ट शनिवार को जब 4X100 मीटर की रेस में दौड़ने उतरे तो दुनिया भर की निगाहें उन्ही पर थीं। लेकिन बोल्ट अपने करियर की आखिरी रेस पूरी ही नहीं कर सके। बोल्ट थोड़ी ही दूर दौड़ने लगाने के बाद चोटिल हो गए और मैदान पर पर गिर गए।

जैसे ही बोल्ट ट्रैक पर गिरे उस दौरान पूरा स्टेडियस सन्न रह गया था। मैच के बाद जमैकाई खिलाड़ी अपने आंसू रोक नहीं पाए। मैदान पर करीब 60,000 लोग बोल्ट की आखिरी जीत देखने आए थे। लेकिन वह मायूसी के साथ लौट गए। बोल्ट का करियर अब खत्म हो गया है। उनके पास 14 विश्व मेडल हैं और 8 ओलिंपिक गोल्ड मेडल हैं। 100 मीटर औ 200 मीटर का विश्व रिकॉर्ड भी फिलहाल उन्हीं के नाम है।

ब्रिटेन ने हासिल किया गोल्ड 

इस रेस में  गोल्ड मेडल ब्रिटेन ने 37.47 सेकेंड के साथ जीता। रजत पदक पर अमेरिका ने 37.52 सेकेंड के साथ हासिल किया। जापान 38.04 सेकेंड के साथ कांस्य पदक पर कब्जा जमाने में सफल रहा। चोटिल होकर जमीन पर गिरे बोल्ट के लिए व्हीलचेयर लाई गई। मगर उन्होंने बैठने से इंकार कर दिया। और अपने साथी खिलाड़ियों के कंधों के सहारा लेते हुए रेस पूरी की। हालांकि आधिकारिक तौर पर बोल्ट टीम अपनी रेस पूरी नहीं कर पाई।

loading...
शेयर करें