सीएम योगी की रैली में पुलिस ने सरेआम मुस्लिम महिला की आबरू के साथ किया खिलवाड़

0

बलिया। चुनाव के समय में यूपी के सीएम योगी आदित्यानाथ की रैली में एक मुस्लिम महिला के साथ कुछ ऐसा हो गया जिसे लेकर विवाद खड़ा हो गया है। पुलिस ने चेकिंग के नाम पर सरेआम एक महिला का बुर्का उतरवाया और जब्त कर लिया। इस घटना से महिला बहुत आहत हुई है।

महिला का बुर्का उतरवाने वालों पर होगी सख्त कारवाई

सायरा नाम की ये महिला बीजेपी की समर्थक है और रैली में सीएम योगी को सुनने आई थी। लेकिन रैली में सीएम आगमन से ठीक पहले पुलिस ने भीड़ में बैठी सायरा का बुर्का उतरवा दिया। इसके बाद उस बुर्का को पुलिस अधिकारी अपने साथ ले गए।

इस मामले पर सायरा का कहना है कि वो इससे पहले भी कई रैलियों में बुर्का पहनकर शामिल हुई हैं लेकिन उनके साथ कभी ऐसा बर्ताव नहीं हुआ। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस घटना पर आपत्ति जताई है। बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद राशिद फिरंगीमहली ने कहा, “पूरी दुनिया में चाहे कितना भी आजाद ख्याल मुल्क क्यों न हो, हर एयरपोर्ट पर महिलाओं की तलाशी एक पर्दे वाले इनक्लोजर के अंदर होती है। रैली की भीड़ में किसी महिला का बुर्का उतरवा कर छीन लेना गैर कानूनी है, इसके लिए पुलिस वालों को सजा मिलनी चाहिए।’

उधर बीजेपी ने इसपर सफाई दी है,बीजेपी अल्पसंख्यक सेल की अध्यक्ष रूमाना सिद्दिकी का कहना है कि कि पार्टी की ऐसी सोच नहीं है। उन्होंने इसके लिए पुलिस वाले जिम्मेदार हैं। बलिया पुलिस कप्तान का कहना है कि वो इस पूरे मामले की जांच कराएंगे।

 

loading...
शेयर करें