इन दस तरीकों से जाने दो हजार का नोट असली है या नकली

सरकार द्वारा नकली नोटों को बंद करने के लिए कई सारे कदम उठाये गए। लेकिन नकली नोट बाजार में आने से रुक नहीं रहे। इन नकली नोटों को रोकने के लिए सरकार ने नोटबंदी भी की थी। लेकिन अब इन नए नोटों की भी कॉपी बनाई जा रही है। नकली नोट जांचने की आपको कई तरकीबें पता होंगी, फिर भी रुपये से संबंधित कई सारी बाते ऐसी हैं जिसके बारे में आप नहीं जानते होंगे।

हम आपको 2,000 रुपये के नोटों के बारे में 10 ऐसी बातें बताने जा रहे हैं, जिनमें से आपको कुछ ही पता होंगी।

  • आरबीआई द्वारा जारी किए गए नोटों का एक तय साइज होता है। 2000 रुपये के नोट का साइज 66×166 एमएम होता है।
  • नोट के बाई ओर देवनागरी में उसकी कीमत लिखी होती है।
  • नोट के बीच में महात्मा गांधी की तस्वीर होगी। नोट पर स्वच्छ भारत का लोगो भी होगा।
  • नोट के दाईं ओर अशोक स्तंभ बना होता है। साथ ही एक वॉटरमार्क भी होता है।
  • आरबीआई द्वारा जारी किए गए नोटों के सिक्योरिटी थ्रेड पर तीन शब्द लिखे होंगे- भारत, 2000 और RBI।
  • महात्मा गांधी सीरीज के नए नोट में आरबीआई के गवर्नर के हस्ताक्षर होते हैं।
  • नोट पर एक नंबर पैनल होता है, जिसमें छोटे से बड़े आकार में संख्या लिखी होती है।
  • आरबीआई द्वारा जारी नोट पर एक ज्योमेट्रिक पैटर्न है, जो गांधी जी की तस्वीर के बिल्कुल करीब है।
  • नोट को तिरछा करने पर सिक्योरिटी थ्रेड का रंग रहे से नीले में बदलता है।
  • दृष्टिबाधित लोग भी नोटों की पहचान कर सकते हैं। नोट के आगे के हिस्से पर बाईं और दाईं ओर सात लाइन बनी होती हैं। आयताकार आकृति में उभरे अक्षरों में नोट की कीमत लिखी होती है। नोट पर महात्मा गांधी की आकृति और अक्षरों में लिखी कीमत उभरी हुई होती है। इसके साथ ही नोट पर अशोक स्तंभ की आकृति भी उभरी हुई होगी।

Related Articles