Toolkit मामलें में दिशा रवि को तीन दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया

नयी दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को टूलकिट (Toolkit) मामलें की मुख्य आरोपी पर्यावरण कार्यकर्ता दिशा रवि को तीन दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया। दरअसल बेंगलुरु की रहने वाली दिशा रवि पिछले पांच दिनों से पुलिस हिरासत में थी, शुक्रवार को पांच दिन पूरे होने के बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें पटियाला अदालत में पेश किया। जहां अदालत ने उन्हें तीन दिन तक न्यायिक हिरासत में रहने का आदेश दिया है।

सरकारी वकील ने सुनवाई के दौरान अदालत को बताया कि पूछताछ के दौरान रवि ने टालमटोल की। पुलिस को पूछताछ के लिए और समय की जरूरत है। अदालत में यह भी उल्लेख किया गया है कि इस मामले के एक अन्य आरोपी शांतनु मुलुक, जिसे बॉम्बे उच्च न्यायालय ने 10 दिनों के लिए अग्रिम जमानत दी है, उसे पूछताछ के लिए 22 फरवरी यानी सोमवार को बुलाया जाएगा.

यह भी पढ़ें: Vishwa Bharati University: PM मोदी ने 50 हजार करोड़ रुपए खर्च करने का रखा प्रस्ताव

अपर मुख्य मजिस्ट्रेट आकाश जैन ने दिल्ली पुलिस की मांग को स्वीकार कर लिया। शनिवार को सुनवाई के लिए सुश्री रवि की नियमित जमानत याचिका सत्र अदालत में सूचीबद्ध है।

दिल्ली पुलिस की साइबर-क्राइम यूनिट ने दिशा रवि को टूलकिट (Toolkit) साझा करने के मामले में पिछले सप्ताह बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था। पुलिस ने स्वीडिश पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग की तरफ से किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुये साझा की गई ‘टूलकिट गूगल डॉक्यूमेंट’ में सुश्री रवि की कथित भागीदारी के मामले में यह गिरफ्तारी की थी।

इससे पहले मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली पुलिस को सुश्री रवि को उनकी गिरफ्तारी से संबंधित प्राथमिकी की एक प्रति और अन्य दस्तावेज सौंपने का आदेश दिया था।

यह भी पढ़ें: Time Magazine ने चंद्रशेखर आज़ाद को अपनी इस लिस्ट में दी जगह, जान कर हो जाएंगे हैरान

Related Articles

Back to top button