IND vs AUS: चौथे टेस्ट मैच को लेकर मचा घमासान, ऑस्ट्रेलिया ने लगातार दो टेस्ट खेलने से किया मना!

सिडनी में तीसरा टेस्ट खेला जाना है जबकि दोनों टीमों के बीच चौथा और अंतिम टेस्ट मैच 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में खेला जाएगा।

मेलबोर्न: भारत (India) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) के बीच 7 जनवरी से सिडनी (Sydney) में तीसरा टेस्ट खेला जाना है जबकि दोनों टीमों के बीच चौथा और अंतिम टेस्ट मैच 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में खेला जाएगा। लेकिन कोरोना के कारण ब्रिस्बेन में संभवत कड़े प्रतिबंधों के कारण टीम इंडिया (Team India) ने वहां जाने से मना कर दिया है। इसी को लेकर ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज मैथ्यू वेड (Matthew wade) का कहना है कि ऑस्ट्रेलिया टीम सिडनी में लगातार दो टेस्ट खेलने के पक्ष में नहीं है।

लगातार दो मैच खेलने के पक्ष में नहीं वेड

बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने कहा, “मैंने इस बारे में नहीं सुना है लेकिन जाहिर है कि हम सिडनी में लगातार दो मैच खेलने के पक्ष में नहीं है। सीरीज का कार्यक्रम पहले से ही तय था और हम इसके अनुसार ही चलेंगे। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इसके अनुसार ही चलना चाहेगी। इसमें कोई शक नहीं कि हम ब्रिस्बेन में खेलना पसंद करेंगे। यहां कठिन क्वारेंटीन और कड़े प्रोटोकॉल रहेंगे लेकिन हम और त्याग करने तथा चुनौतियों के लिए तैयार है।”

मैथ्यू वेड ने कहा, “हमारी तरफ से किसी भी प्रकार की अनिश्चितिता नहीं है। हम सिडनी में खेलने के लिए तैयार हैं। हम अगले मुकाबले के लिए तैयार हैं। आगे क्या होगा वो हमारे नियंत्रण में नहीं और हम इसमें कुछ कर भी नहीं सकते।”

प्रोटोकॉल तोड़ने पर बोले वेड

भारतीय टीम के पांच खिलाड़ियों के कथित रुप से प्रोटोकॉल तोड़ने पर वेड ने कहा, “भारत ने जो किया इस बारे में मैं ज्यादा नहीं सोच रहा। एक टीम और निजी तौर पर क्रिकेट मैदान के बाहर टीम इंडिया क्या कर रही है इस बारे में हम नहीं सोच रहे। यह ऐसी स्थिति है जहां हम सिर्फ यह सोच रहे हैं कि ज्यादा से ज्यादा बेहतर कर सकें।”

उन्होंने कहा, “रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की जोड़ी से पार पाना कठिन है। इन्होंने काफी बेहतरीन तरीके से गेंदबाजी की। पहली पारी में हमने जितना नहीं सोचा था उससे ज्यादा इन दोनों गेंदबाजों ने स्पिन और बाउंस की। यह आश्चर्यचकित करने वाला था।”

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: कड़े प्रतिबंधों के साथ ब्रिस्बेन जाने को तैयार नहीं टीम इंडिया

Related Articles

Back to top button