IPL
IPL

चीन और पाकिस्तान पर रहेगी भारत की नजर, इस उपग्रह को अंतरिक्ष में किया गया तैनात

नई दिल्ली: डीआरडीओ (DRDO) के वैज्ञानिकों की एक टीम ने रविवार को सिंधु नेत्र सर्विलांस सैटेलाइट (Sindhu Netra Satellite) को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में भेज दिया है। इस सैटेलाइट (Satellite) के स्थापित होने से भारत अब हिंद महासागर क्षेत्र में चीन और पाकिस्तान की नापाक हरकतों पर नजरें बनाए रहेगा। उपग्रह को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के प्रमुख के०सिवन ने मीडिया को बताया है कि उपग्रह को ध्रुवीय उपग्रह प्रमोचन वाहन (PSLV)-सी 51 का उपयोग करके लॉन्च किया गया। आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से रविवार की सुबह 10:30 बजे सफतापूर्वक प्रक्षेपण हुआ है।

पांच उपग्रह छात्र निर्मित हैं

इसरो ने अपनी वाणिज्यिक इकाई ‘न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड’ (एनसिल) के प्रथम समर्पित मिशन के तहत रविवार को ब्राजील के अमेजोनिया-1 और 18 अन्य उपग्रहों का पीएसएलवी (ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान) सी-51 के जरिए सफल प्रक्षेपण किया। इनमें से पांच उपग्रह छात्र निर्मित हैं। सूत्रों ने बताया कि डीआरडीओ द्वारा विकसित उपग्रह भारत के सामरिक और वाणिज्यिक हित के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। हिंद महासागर क्षेत्र में सैन्य और मर्चेंट नेवी के जहाजों पर नजर बनाए रख सकता है।

ये भी पढ़ें : शीशे सा चमकदार चेहरा बनाने के लिए इस्तेमाल करें ये चीजें

भारत की बढ़ी ताकत

न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड’ (एनसिल) के प्रथम समर्पित मिशन पूरी तरह से व्यावसायिक प्रक्षेपण था। इसको देखने के लिए 2019 में विज्ञान विभाग के तहत एक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी के तौर पर NSIL का गठन किया गया। सिंधु नेत्र सर्विलांस सैटेलाइट के माध्यम से अब भारत की ताकत और भी बढ़ गई है। इस ताकत से अब चीन से लगनी वाली सीमा व लद्दाक के अलावा पाकिस्तान के सीमावर्ती इलाको पर अब भारत नजरें गड़ा सकता है।

ये भी पढ़ें : Yo Yo Honey Singh का नया गाना हुआ रिलीज, यूट्यूब पर मचा रहा धूूम

Related Articles

Back to top button