भारत-बांग्लादेश का रिश्ता मजबूत, हर साल इस दिन मनाएंगे मैत्री दिवस

नई दिल्ली: बांग्लादेश इन दिनों भारत (India) देश से बेहद खुश नजर आ रहा है और हो भी क्यों न क्योंकि भारत सरकार ने (India Government) बांग्लादेश को कोरोना वैक्सीन का बड़ा तोहफा दिया है। बांग्लादेश ने आजादी के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में बड़ा फैसला लिया है। बांग्लादेशी की प्रधानमंत्री शेख हसीना और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर साल 6 दिसंबर को मैत्री दिवस मनाने का फैसला लिया है। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने दोनों देशों के प्रतिनिधिमडंल के बीच हुई बातचीत के बारे में जानकारी दी है।

आपको बता दें कि भारत ने 6 दिसंबर 1971 को बांग्लादेश को मान्यता दी थी। वहीं अब बांग्लादेश की आजादी के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में पीएम मोदी और बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना ने ये फैसला किया है कि हर साल 6 दिसंबर को मैत्री दिवस मनाएंगे। विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने बताया- मुक्ति संग्राम संबंधी वॉर मेमोरियल बनाने पर पीएम मोदी ने शेख हसीना को धन्यवाद दिया। दोनों प्रधानमंत्रियों ने वॉर मेमोरियल का शिलान्यास किया। बांग्लादेश के स्वतंत्रता संग्राम में भारतीय सैनिकों के बलिदान को बांग्लादेश भी याद कर रहा है।

ये भी पढ़ें : किसानों और भाजपा विधायक के बीच मचा घमासान, कपड़े फाड़ कर पोती कालिख

इन मुद्दों पर हुई चर्चा

विदेश सचिव ने जानकारी दी है कि दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच कॉमर्स-कनेक्टिविटी, जल संसाधन, डिफेंस, ऊर्जा के अलावा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई है। इज़के अलावा स्पेस सेक्टर में सहयोग को लेकर भी चर्चा हुई है। BBIM ग्रुप भारत-बांग्लादेश, नेपाल और भूटान में सक्रिय सहयोग मजबूत हो रहा है।

ये भी पढ़ें : Tips To Remove Holi Colour: जानिए होली के बाद रंगों का निशान चेहरे से कैसे निकाले

 

Related Articles

Back to top button