भारत ने LAC पर किया बड़ा बदलाव, चीनी सैनिक होंगे परेशान

भारत और चीन के सीमा पर लंबे समय से तनाव का माहौल बना हुआ है।

नई दिल्ली: भारत और चीन के सीमा पर लंबे समय से तनाव का माहौल बना हुआ है। दोनों देशों के सीमाओं पर भारी संख्या में सैनिक तैनात है ताकि कोई अनहोनी ना हो।

आपको बता दे कि वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) पर चीन के साथ जारी तनाव के बीच भारत बड़ा कदम उठाने जा रहा है और घुसपैठ का पता लगाने के लिए निगरानी सिस्टम ( Surveillance System ) को मजबूत करने की भी तैयारी में कर रहा है।

वास्तविक नियंत्रण रेखा
वास्तविक नियंत्रण रेखा

चीनी सैनिकों पर रखी जाएगी नजर

सीमा पर ड्रोन, सेंसर, टोही और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध उपकरण ( Electronic warfare equipment ) के जरिए चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी ( PLA ) की हरकतों पर भारतीय सैनिक नजर रखेगी।

पिछले साल मई से ही लद्दाख सीमा पर तनाव का माहौल बना हुआ है और बीच-बीच में कई बार भारत-चीन की सैनिक आपस में भीड़ भी चुके है। जिसको लेकर लेकर दोनों देशों के मिलिट्री कमांडर ( Military commander ) के बीच बैठक भी हो चुकी है।

इस बीच चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा ( LAC ) पर तेजी के इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास करने में जुटा है। इसी को देखते हुए अब भारत ने भी सीमा पर निगरानी सिस्टम और खुफिया जानकारियां एकत्र करने के तंत्र को उच्च कोटि का बनाने का फैसला किया है।

वास्तविक नियंत्रण रेखा
वास्तविक नियंत्रण रेखा

टीओआई ( TOI ) की रिपोर्ट के अनुसार, रक्षा मंत्रालय ( Ministry of Defence ) के एक सूत्र ने बताया, ‘वास्तविक नियंत्रण रेखा ( Line of Actual Control ) पर पाकिस्तान ( Pakistan ) के साथ 778 किलोमीटर लंबी नियंत्रण रेखा की तरह लगातार सैनिक तैनात नहीं किए जा सकते हैं। इसलिए एलएसी ( Lac ) पर गैप फ्री कवरेज और वास्तविक समय की जानकारी के लिए मौजूदा निगरानी तंत्र को तत्काल अपग्रेड करने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें: चमोली त्रासदी: ऋषभ पंत ( Rishabh Pant ) ने किया बड़ा ऐलान, लोगों से भी की अपील

Related Articles

Back to top button