भारत को अब महिलाओं से ख़तरा, मसूद अजहर रच रहा है बड़ी साजिश

नई दिल्ली: देश में आतंक का पर्याय बन चुके आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का संस्थापक मौलाना मसूद अजहर अब देश में आतंक फैलाने के लिए एक नई रणनीति तैयार कर रहा है। अपनी इस रणनीति के तहत वह महिलाओं को हथियार के रूप में प्रयोग करने की योजना बना रहा है। मसूद अजहर महिलाओं की एक फ़ौज बनाना चाह रहा है जिसके लिए उसने महिलाओं को भड़काना भी शुरू कर दिया है। इस बात की जानकारी उस ऑडियो सन्देश से हुई है जिसे मसूद अजहर ने अपनी ऑनलाइन जेहादी पत्रिका ‘अलकलाम’ के माध्यम से जारी किया है।

अपने इस ऑडियो सन्देश में मसूद अजहर ने महिलाओं को जेहाद के लिए प्रेरित करता नजर आ रहा है। ऑडियो सन्देश में मसूद अजहर ने दावा किया है कि इस्लाम के इतिहास में ऐसे कई मौके आए हैं जब महिलाओं ने जेहाद में भागीदारी की है। जैश-ए मोहम्मद इन दिनों जम्मू और कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में सक्रिय है। मसूद अजहर आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद का संस्थापक है।

आपको बता दें कि बीते दिनों मसूद अजहर ने एक और ऑडियो सन्देश जारी किया था जिसमें उसने रमजान के दौरान भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर में भारत-पाक सीमा पर सीजफायर लागई किया था। अपने इस सन्देश में उसने भारत सरकार के सीजफायर का मजाक उड़ाते हुए इसे भारत की मजबूरी करार दिया था।

अपने उस ऑडियो सन्देश में अजहर मसूद ने कहा था कि कश्मीर में फायरबंदी की खबरें आ रही हैं। आप परेशान तो नहीं हुए। दोस्तों ने फायरबंद नहीं की, जैश के लिए जगह छोड़ी है। उसने कहा था कि कश्मीर में सीजफायर लागू नहीं हुआ है, बल्कि वहां जैश के लिए जगह छोड़ी गई है। इस ऑडियो सन्देश में उसने यह भी कहा कि जैश भारत में इससे पहले कई आतंकी वारदातों को अंजाम दे चुका है और अब भारत में हमलों को और तेज करने की धमकी दी है।

Related Articles