कन्कशन सब्स्टीट्यूट को ‘चाल’ बताने वाले ऑस्ट्रेलियाई दावों को भारत ने किया खारिज

कन्कशन सब्स्टीट्यूट को एक 'रणनीतिक चाल' बताने के ऑस्ट्रेलियाई दावों को सिरे से खारिज कर दिया है।

सिडनी: भारतीय टीम प्रबंधन ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टी-20 मैच के दौरान कन्कशन सब्स्टीट्यूट को एक ‘रणनीतिक चाल’ बताने के ऑस्ट्रेलियाई दावों को सिरे से खारिज कर दिया है।

भारतीय टीम के लेफ्ट आर्म स्पिन ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा को शुक्रवार को खेले गए इस मैच के भारतीय पारी के आखिरी ओवर में बल्लेबाजी के दौरान हेलमेट पर तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क की गेंद लग गयी थी। जडेजा ऑस्ट्रेलिया की पारी में फील्डिंग करने नहीं उतरे और टीम इंडिया ने लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को जडेजा की कन्कशन सब्स्टीट्यूट के तौर पर टीम में शामिल किया था।

चहल को टीम में शामिल करने की मंज़ूरी 

ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लेंगर ने हालांकि इस फैसले का विरोध किया था और उनकी मैच रेफरी डेविड बून के साथ बहस भी हुई थी लेकिन उनके विरोध को खारिज कर चहल को टीम में शामिल करने की मंजूरी दी गयी थी।

टीम इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने क्रिकबज से बातचीत में कहा कि यह फैसला उस वक्त लिया गया था जब जडेजा ने ड्रेसिंग रूम में लौटने पर घबराहट और चक्कर आने की शिकायत की थी। अधिकारी ने बातचीत में उन घटनाओं को क्रमवार तरीके से भी बताया, जिसके कारण युजवेंद्र चहल को जडेजा की जगह मैदान में उतारा गया था।

यह बजी पढ़े: कांग्रेस ने कहा किसानों के धैर्य की परीक्षा नहीं ली जानी चाहिए

Related Articles