भारत, चीन में मुक्त व्यापार समझौते से बढ़ेगा व्यापार

कोलकाता। भारत और चीन के बीच मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) से दोनों देशों के बीच व्यापार बाधाएं दूर होंगी और व्यापार, निवेश समेत अन्य आदान-प्रदान को बढ़ावा मिलेगा। चीन के महावाणिज्यदूत ने शनिवार को यह बातें कही।

चीन के कोलकाता में महावाणिज्यदूत माक झानवू ने कहा, “मुक्त व्यापार समझौता चीन और भारत के बीच व्यापार, निवेश और अन्य आदानप्रदान को सुविधाजनक बनाएगा। इसलिए हम इस तरह के समझौतों को करना जारी रखेंगे..।”

उन्होंने भारत चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित एक परस्पर संवादात्मक सत्र में कहा, “दरअसल, चीन और भारत के बीच व्यापार और निवेश में बाधाएं हैं, इसलिए दोनों देशों की केंद्र सरकारें इसे दूर करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है।”

उनके मुताबिक, डोकलाम विवाद पीछे छूट चुका है और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वुहान अनौपचारिक सम्मेलन में हुई बैठक से नए अध्याय की शुरुआत हुई है।

उन्होंने कहा, “दोनों देश सीमा विवाद पर शांतिपूर्ण बातचीत का पालन करते हैं।”उन्होंने कहा कि दोस्ताना शैक्षणिक आदान-प्रदान के तहत चीनी विश्वविद्यालयों द्वारा विश्व बांग्ला कन्वेंशन सेंटर में अगले महीने शिक्षा मेला का आयोजन किया जाएगा, जिसमें चीन के 62 विश्वविद्यालय भाग लेंगे।मा ने कहा कि चीन पूर्वी भारत से अपने आयात में भी वृद्धि करेगा।

Related Articles