डेविस कप क्वालीफायर में क्रोएशिया को हराने पर होंगी भारत की निगाहें

नई दिल्ली: सुमित नागल और प्रजनेश गुणेश्वरन की अगुवाई वाली भारतीय टीम शुक्रवार से यहां शुरू होने वाले डेविस कप क्वालीफायर में क्रोएशिया के खिलाफ उलटफेर भरी जीत दर्ज करने की कोशिश करेगी। मेजबान टीम की अगुवाई दुनिया के 37वें नंबर के खिलाड़ी मारिन सिलिच करेंगे और 2014 अमरीकी ओपन चैम्पियन उनकी टीम में शामिल एकमात्र शीर्ष-50 एकल खिलाड़ी है।

उनकी टीम के सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग के खिलाड़ी बोर्ना कोरिच (33) की अनुपस्थिति का मतलब है कि नागल और प्रजनेश उनके दूसरे एकल खिलाड़ी बोर्ना गोजो को पराजित कर सकते हैं जिन्होंने अभी तक तक डेविस कप में अपना एक भी मैच नहीं जीता है। मेहमानों के लिए गोजो पर जीत से 2 अंक जुटाना संभव है जो ए.टी.पी. रैंकिंग में 277वें स्थान पर काबिज हैं और इन दोनों भारतीय एकल खिलाडिय़ों से नीचे हैं।

दोनों नागल (127) और प्रजनेश (132) हालांकि गोजो के खिलाफ नहीं खेले हैं लेकिन उनके लिए उन्हें हराना संभव हैं। रामकुमार रामनाथन के बेंच पर रहने की उम्मीद है क्योंकि लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना के युगल मुकाबला खेलेंगे। युगल मैच अहम होगा। इस मैच का विजेता साल के अंत में होने वाले डेविस कप फाइनल्स के लिए क्वालीफाई कर लेगा जो नवंबर में मैड्रिड में खेला जाएगा।

भारत ने चीन से मिली पराजय के झटके से उबरते हुए उज्बेकिस्तान को फेड कप एशिया/ओसनिया जोन ग्रुप-1 मुकाबले में 3-0 से पराजित कर दिया। 433वीं रैंकिंग की रूतुजा भौसले और 160वें नंबर पर मौजूद अंकिता रैना ने एकल मुकाबले जीते जबकि सौजन्या बावीशैट्टी और रिया भाटिया ने युगल मैच जीता। 27 वर्षीया रैना ने सबीना शारीपोवा को 7-5, 6-1 से हराकर भारत को 2-0 की बढ़त दिला दी। सौजन्या बावीशैट्टी और रिया भाटिया ने युगल मैच में करीमजानोवा यास्मिया और नोरमुरोदोवा सेतोरा को 6-3, 6-1 से पराजित किया।

Related Articles