मिग के बाद अब यमुना एक्सप्रेस वे पर ट्रांसपोर्ट प्लेन उतारने की तैयारी

0

लखनऊ। नोएडा से आगरा तक बने यमुना एक्सप्रेस वे एक बार फिर एक नया कारनाम होने जा रहा है। इस पर फाइटर प्लेन मिग उतारने के बाद मालवाहक विमान उतारने की तैयारी है। दो साल पहले यहां फाइटर प्लेन मिग उतारा गया था।

अक्टूबर में ट्रांसपोर्ट प्लेन की लैडिंग और टेकऑफ करा सकती है

मालवाहक विमान उतारने का ट्रायल अक्तूबर में करने का प्रस्ताव है। एअरफोर्स के अधिकारियों ने प्रदेश सरकार से इस संबंध में आग्रह किया है। गौरतलब है कि एयरफोर्स ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर पिछले वर्ष नवंबर में मिग विमान उतारा था। साथ ही फाइटर प्लेन उतारने के लिए एक्सप्रेस-वे को पास भी कर चुका है।

ये भी पढ़ें : आगरा एक्सप्रेसवे भूल जाइये, अब देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे बनाएंगे सीएम योगी

उल्लेखनीय है कि पडोसी देशों के साथ बढ़ते तनाव और प्राकृतिक आपदा को देखते हुए इंडियन एयरफोर्स ने यह कदम उठाया है। खबर के मुताबिक, अक्टूबर 2017 में एयरफोर्स यमुना एक्सप्रेस वे ट्रांसपोर्ट प्लेन की लैडिंग और टेकऑफ करा सकती है।

आपको बता दें मालवाहक विमान उतारने के लिए जरुरी तैयारियां भी पूरी हो चुकी हैं। इसके लिए एक्सप्रेस वे के एक खास हिस्से का निरीक्षण भी कर लिया गया है। इस दौरान देखा गया कि कहाँ कहाँ प्लेन उतारा जा सकता है।

शासन के एक अधिकारी ने बताया कि वायुसेना के अधिकारियों ने पिछले दिनों मालवाहक विमान की लैंडिंग व टेक-ऑफ के परीक्षण को लेकर संपर्क किया था। बताया जा रहा कि अक्तूबर तक यह प्लान अमल में लाया जा सकता है। उम्मीद जताई जा रही कि सैन्य जरूरतों के लिए आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे मददगार साबित हो सकता है।

पिछले साल उतरा था मिग 

इंडियन एयरफोर्स ने पिछले वर्ष नवंबर में एक्सप्रेस वे पर मिग उतारा था। वायू सेना में इस तरह का प्रयोग भारत में पहली बार किया गया है। वायु सेना में इस तरह का प्रयोग भारत में पहली बार किया गया है।इस दौरान एक्सप्रेस को बंद कर दिया गया था। आपको बता दें कि ऐसा करना किसी भी आपात स्थिति के लिए बेहद जरुरी होता है। अगर किसी युद्ध के दौरान अगर हवाई अड्डे बर्बाद हो जायें तो इस तरह के एक्सप्रेस वे का प्रयोग किया जा सकता है।

वो देश जहां एक्सप्रेसवे और हाईवे पर हो सकती है लैंडिंग 

आपको बता दें कि पाकिस्तान सहित जर्मनी, पोलैंड, स्वीडन, दक्षिण कोरिया, ताइवान, फिनलैंड, सिंगापुर उन देशों में शामिल हैं जहां आपातकाल में एक्सप्रेसवे और हाईवे पर विमान लैंड कराया जा सकता है।

 

 

loading...
शेयर करें