Hindon Airbase पर पूरी शान से मनाया गया भारतीय वायुसेना का स्थापना दिवस

गाजियाबाद : भारतीय वायुसेना ने शुक्रवार को अपना 89वां स्थापना दिवस मनाया। देश को गौरवान्वित करने वाले इस मौके पर वायु सेना प्रमुख और तीनों सशस्त्र बलों के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में Hindon Airbase पर भव्य कार्यक्रम हुआ।

 उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में स्थित है Hindon Airbase

इस मौके पर भारतीय वायुसेना के विमानों ने दुनिया को अपनी ताकत दिखाई। इस दौरान परेड ग्राउंड पर वायुसैनिकों ने कदमताल किया तो आकाश में कई लड़ाकू विमानों के साथ राफेल, तेजस और सुखोई की दहाड़ भी दुनिया ने सुनी। इस के साथ साथ हिंडन एयरबेस पर भारतीय विमान और हेलिकॉप्टर्स अपना दमखम दिखाया। भारतीय जवानों ने हैरतअंगेज करतबों के जरिए अपना शौर्य दिखाया। वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी, नौसेना प्रमुख करमबीर सिंह, सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत वायुसेना दिवस के मौके पर हिंडन एयरबेस पर मौजूद थे।

इस मौके पर चीफ ऑफ एयर स्टाफ, एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में पिछले साल हुए घटनाक्रम की प्रतिक्रिया में त्वरित कार्रवाई भारतीय वायु सेना की, किसी भी परिस्थिति से निपटने की तैयारी का प्रमाण थी। उन्होंने 89वें वायु सेना दिवस के मौके पर दिए संबोधन में यह भी कहा कि भारतीय वायु सेना को देश को यह दिखाना होगा कि बाहरी ताकतों को हमारी सीमाओं का उल्लंघन करने नहीं दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : तंजानिया के abdulrazzaq gurnah को मिला साहित्य का नोबेल

वायु सेना प्रमुख ने समारोह में कहा कि चूंकि हमारी चुनौतियां लगातार बढ़ रही है तो हमारी ताकत और यह सुनिश्चित करने का संकल्प भी बढ़ रहा है कि हवाई ताकत का सबसे अच्छा इस्तेमाल किया जाए। जब मैं आज हमारे सामने के सुरक्षा परिदृश्य को देखता हूं तो मैं महसूस करता हूं कि मैंने महत्वपूर्ण समय में कमान संभाली है।

Related Articles