भारतीय वायु सेना ने आकाश मिसाइलों का किया परीक्षण

डीआरडीओ के साथ ही भारत डायनेमिक्स लिमिटेड और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) द्वारा इन मिसाइलों को निर्मित किया गया है।

हैदराबाद: भारतीय वायु सेना (आईएएफ) ने रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा डिजाइन और विकसित आकाश मिसाइलों का पिछले हफ्ते सफलतापूर्वक परीक्षण किया है।

डीआरडीओ के साथ ही भारत डायनेमिक्स लिमिटेड और भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) द्वारा इन मिसाइलों को निर्मित किया गया है।

सूर्यलंका परीक्षण फायरिंग रेंज में किया गया आकाश मिसाइलों परीक्षण

बीडीएल ने शनिवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि आकाश मिसाइलों का परीक्षण आंध्र प्रदेश में सूर्यलंका परीक्षण फायरिंग रेंज में किया गया था।

इसमें अभ्यास के दौरान आकाश मिसाइलों और कंधे से हवा में मार करने वाली मिसाइलों का परीक्षण किया गया। पूर्व में किए गए कई परीक्षण भी सफल साबित हुए हैं। आकाश भारतीय सेना और वायु सेना में शामिल की गई सबसे सफल स्वदेशी मिसाइलों में से एक है।

आकाश स्वदेशी हथियार से युद्ध करने की इच्छा को करेगा पूरा

भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी ने कहा कि आकाश मिसाइल सबसे सफल स्वदेशी हथियार प्रणालियों में से एक है, इससे रक्षा बलों को काफी मजबूती मिलेगी। आकाश सुरक्षाबलों के स्वदेशी हथियारों से युद्ध करने की इच्छा को पूरा करेगा।

आकाश मिसाइल को हाल ही में अपग्रेड किया गया है और जो इसे पहले की तुलना में अधिक आसानी के साथ लक्ष्य को मार गिराने में मदद करेगा।

यह भी पढ़ें- केंद्र सरकार ने खत्म किया एमएसपी तो कैसे बढ़ेगी किसानों की आय: अखिलेश

यह भी पढ़ें- प्रतिबंधित इलाके में प्रदर्शन करने पर तेजस्वी समेत 20 के नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज

Related Articles

Back to top button