भारतीय सेना ने बंगलादेश को गिफ्ट में दिये प्रशिक्षित अश्व और खोजी कुत्ते

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सेना के श्वान दस्ते की काबलियत सराहनीय है। भारत बंगलादेश जैसे मित्र देश के साथ सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए सदा तैयार रहता है।

नई दिल्ली: बंगलादेश के साथ द्विपक्षीय संंबंधों और विशेष रूप से दोनों सेनाओं के बीच परस्पर सहयोग बढाने की दिशा में कदम उठाते हुए भारतीय सेना ने बंगलादेश की सेना को 20 प्रशिक्षित सैन्य अश्व और बारूदी सुरंगों का पता लगाने वाले दस श्वान उपहार में दिये हैं।

इन अश्वों और श्वानों को सेना की रिमाउंट और वेटेनरी कोर ने प्रशिक्षित किया है। सेना ने इन्हें संभालने के लिए बंगलादेश के जवानों को भी विशेष रूप से प्रशिक्षित किया है।

ये अश्व और श्वान बंगलादेश सेना को दोनों देशों की सीमा पर स्थित पेट्रोपोल-बेनापोल एकीकृत चौकी पर एक समारोह में उपहार स्वरूप दिये गये। इस मौके पर भारतीय दल का नेतृत्व ब्रह्मास्त्र कोर के प्रमुख मेजर जनरल नरेन्द्र सिंह खरोड ने किया जबकि बंगलादेश के दल का नेतृत्व जसोर स्थित डिविजन के कमांडर मेजर जनरल मोहम्मद हुमायूं कबीर ने किया। इस मौके पर ढाका स्थित भारतीय उच्चायोग के प्रतिनिधि ब्रिगेडियर जे एस चीमा भी मौजूद थे।

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सेना के श्वान दस्ते की काबलियत सराहनीय है। भारत बंगलादेश जैसे मित्र देश के साथ सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग के लिए सदा तैयार रहता है। सुरक्षा के मामलों में श्वान दस्ते ने हमेशा अपनी उपयोगिता साबित की है। जो श्वान दिये गये हैं वे बारूदी सुरंगों और मादक पदार्थों का पता लगाने में दक्ष हैं।

भारत की बंगलादेश के साथ साझेदारी क्षेत्र में अच्छे पड़ोसी के आदर्श के रूप में जानी जाती है। आज के इस सद्भावनापूर्ण कदम से दोनों देशों के बीच संबंध और मजबूत बनेंगे।

ये भी पढ़ें : पटाखे को लेकर दिल्ली के बाद यूपी में भी फूटा NGT का बम

Related Articles

Back to top button