भारतीय उद्योगों को गुणवत्ता सुनिश्चित करने पर देना चाहिए जोर: मंत्री पीयूष गोयल

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल उद्योगों से गुणवत्ता सुनिश्चित करने और उत्पादकता बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा है कि इसके लिए विनिर्माण कर्ताओं, सेवा प्रदाता और व्यापारियों को मिलकर प्रयास करने होंगे।

नई दिल्ली: केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल उद्योगों से गुणवत्ता सुनिश्चित करने और उत्पादकता बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा है कि इसके लिए विनिर्माण कर्ताओं, सेवा प्रदाता और व्यापारियों को मिलकर प्रयास करने होंगे।

पीयूष गोयल ने मंगलवार को उद्योग संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक में कहा कि पिछली तिमाही में ज्यादातर कंपनियों के मुनाफे में वृद्धि हुई है।यह इसका संकेत है कि कोरोना महामारी के कारण लगे लॉक डाउन का उपयोग उद्योगों ने उत्पादकता बढ़ाने और और गुणवत्ता सुनिश्चित करने में किया है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में स्थान पाने के लिए भारतीय उद्योगों को गुणवत्ता सुनिश्चित करने पर जोर देना चाहिए। आपूर्ति श्रंखला बनाए रखने के लिए उत्पादकता बढ़ाना आवश्यक होगा।

ये भी पढ़े : आईएसएल का सातवां सीजन: एफसी गोवा का सामना मुम्बई सिटी एफसी से होगा आज

उन्होंने गुणवत्ता और उत्पादकता पर ध्यान केंद्रित करने का आह्वान करते हुए कहा कि देश के उद्योगों की पहचान उत्पादों की गुणवत्ता से होनी चाहिए और इसके लिए विनिर्माण कर्ताओं तथा सेवा प्रदाताओं एवं व्यापारियों को विशेष प्रयास करने होंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गुणवत्ता और उत्पादकता सुनिश्चित करने के लिए क्षेत्रवार प्रयास किए जाने चाहिए।

ये भी पढ़े : मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने वालों की जमानत अर्जी नामंजूर

इसमें सभी संबद्ध पक्ष धारकों को शामिल करना होगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए उद्योगों को अभियान चलाना होगा और गुणवत्ता तथा उत्पादकता पर ध्यान केंद्रित करके कोरोना महामारी के संकट को अवसर में बदला जा सकता है

Related Articles