IPL
IPL

1971 के ‘लिबरेशन युद्ध’ के ’50वीं वर्षगांठ’ पर बांग्लादेश पहुंचा भारतीय युद्धपोत

ढाका : 1971 के लिबरेशन युद्ध (Liberation War) में पाकिस्तान (Pakistan) पर ऐतिहासिक भारतीय विजय के 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर भारतीय नौसेना (Indian Navy) का जहाज बांग्लादेश (Bangladesh) की तीन दिवसीय यात्रा के लिए सोमवार को मोंगला शहर के बंदरगाह पहुंचा। भारतीय नौसेना का जहाज 8 से 10 मार्च के बीच तीन दिवसीय बांग्लादेश की यात्रा पर हैं।

बांग्लादेश में भारतीय उच्चायुक्त (Indian High Commissioner) ने ट्वीट कर बताया कि इस ऐतिहासिक अवसर पर दो युद्धपोत INS कुलिश और INS सुमेधा आज मोंगला पहुंचे जहां बांग्लादेश नेवी द्वारा उनका स्वागत किया गया। भारतीय नौसेना के अनुसार, वर्ष 2021 को 1971 के भारत-पाक युद्ध (Liberation War) की 50 वीं वर्षगांठ के रूप में ‘स्वर्णिम विजय वर्ष’ के रूप में मनाया जा रहा है। हालाँकि, 2021 बांग्लादेश की आजादी का 50 वां साल भी है।

90,000 सैनिकों के साथ आत्मसमर्पण किया था पाकिस्तान

यह पहली बार है कि कोई भी भारतीय नौसैनिक जहाज बांग्लादेश के मोंगला बंदरगाह का दौरा कर रहा है और इस यात्रा का उद्देश्य बांग्लादेशी और भारतीय लड़ाकों और नागरिकों को श्रद्धांजलि देना है जिन्होंने 1971 के मुक्ति संग्राम के दौरान अपनी जान की बाजी लगा दी और भारत को फिर से संगठित किया। एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि भारत के प्रधानमंत्री ने क्षेत्र में शांति, स्थिरता बनाए रखने के लिए सुरक्षा और विकास के संकल्प को दोहराया है।

इसे भी पढ़े; राहुल गांधी को फिर मिल सकती है कांग्रेस की कमान, IYC ने पारित किया प्रस्ताव

बता दें कि भारत और बांग्लादेश 50 साल के मुक्ति संग्राम का जश्न मना रहे हैं जिसमें भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सेना को पूर्वी पाकिस्तान से बाहर निकाल कर नया देश बांग्लादेश बनाया था और उनके 90,000 सैनिकों को आत्मसमर्पण करने के लिए मजबूर कर दिया था। इस बीच, दोनों देशों (भारत और बांग्लादेश) द्वारा निर्णायक युद्ध की 50 वीं वर्षगांठ मनाने के लिए कई आयोजन किए जा रहे हैं।

Related Articles

Back to top button